Saturday, May 6, 2017

500 रूपए के लेन देन को लेकर दोस्त की कर दी हत्या, गिरफ्तार


फरीदाबाद(abtaknews.com ) क्राईम ब्रांच डीएलएफ पुलिस टीम को उस वक्त बडी कामयाबी हाथ लगी जब मात्र 500 रूपए के लेन देन को लेकर अपने ही दोस्त साबित को 10 फरवरी 2017 को चाकू घोंप कर मौत के घाट उतारने वाले हत्यारे नन्ने को हत्या में प्रयोग किये गये चाकू सहित गिरफ्तार कर लिया, आरोपी नन्ने का कहना है कि उसे मृतक दोस्त को 500 रूपये देने थे वो बार बार मांग रहा था जोकि उस समय उसके पास नहीं थे, इसी बजह से आरोपी ने अपने ही साथी को मार डाला। आरोपी ने कबूल करते हुए कहा कि अगर 500 रूपए उसके पास होते तो वह अपने साथी का क़त्ल कभी नहीं करता। पुलिस की मानें, तो पकडे गए आरोपी नन्ने को अदालत में पेश करने के बाद एक दिन के लिए पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा।
पैसा किसीका सगा नहीं होता इस चहुमुखी कहावत को फरीदाबाद में एक दोस्त ने अपने दोस्त का 500 रूपये के लेनदेन के लिये कत्ल करके साबित कर दिया है। यादराम, सब इंस्पेक्टर, डीएलएफ क्राईम ब्रांच फरीदाबाद ने अबतक न्यूज़ पोर्टल को बताया कि बीते 10 फऱवरी 2017 को कबाड़ा मार्किट, मुजेसर, फरीदाबाद  में उत्तरप्रदेश निवासी साबित जो कबाड़ी मार्किट में मजदूरी करने का काम करता था उसकी उसके ही दोस्त नन्ने ने चाकू घोंप कर हत्या कर दी थी, हत्या के बाद वह घटना स्थल से फरार हो गया था, जिसकों पुलिस ने आज बल्लभगढ़ के पास से गिरफ्तार किया हैं जिससे हत्या में प्रयोग किये गये चाकू को भी बरामद कर लिया है।
आरोपी नन्ने ने मीडिया को बताया कि मजदूरी के 500/- रूपए देना थे और उस वक़्त उसे देने के लिए नहीं थे। जबकि साबित उससे 500 रूपए लेने के लिए काफी झगड़ा कर रहा था, उसका कहना हैं कि उसने साबित से कहा भी था, उसके 500 रूपए जल्द लौटा देगा पर साबित को नन्हें की बातों पर विश्वास नहीं था, इसी लेने-देन की वजह से दोनों का झगड़ा आपस में ज्यादा बढ़ गया और नन्हें ने साबित को चाकू घोंप कर हत्या कर दी, आरोपी का यह भी कहना हैं कि उसे उस दिन मैं नहीं मरता, तो वह मुझे मार देता। जबकि मैं उसे बार -बार यहीं कह रहा था, जल्द ही उसके 500 रूपए लौटा देगा ,पर वह नहीं माना और उसने उसके साथ झगड़ा शुरू कर दिया और इस झगड़े में मेरे हाथों उसका क़त्ल हो गया।  

loading...
SHARE THIS

0 comments: