Thursday, May 4, 2017

टैक्सी में पिस्टल की नोक पर सवारियों को लूटने वाले 3 लुटेरे गिरफ्तार


फरीदाबाद 4 मई।  फरीदाबाद क्राईम ब्रांच सैक्टर 30 इचार्ज सतेन्द्र रावल की टीम ने फरीदाबाद गुडगांव पहाडी रोड पर हुई लूट की करीब आधा दर्जन वारदातों को सुलझाते हुए 3 लुटेरों को गिरफ्तार किया है, जिनसे एक पिस्टल और तीन कारतूस बरामद किये गय हैं।  एक लुटेरे ओला कैब टैक्सी में लिफ्ट देकर पहाडी सडक का सुनसान देख दो दोस्तों के साथ सवारी को बंदूक की नोक पर लूटते थे, उसके बाद उसे चलती गाडी से फेंक देते थे, लूट के शिकार हुए तीन पीडित फरीदाबाद से हैं तो 2 गुडगांव से हैं जिनसे लेपटॉप, चैन, पैसे और एटीएम कार्डों को लूटा गया था, जनवरी से लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले लुटेरों ने 4 माह में आधा दर्जन यात्रियों से लाखों रूपये की लूट की है। लूटेरों के इस गिरोह के दो सदस्य अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। आने जाने के लिये कैब का साहरा लेने वाले और अपने आपको महफूज समझने वाले सावधान हो जाईये,, हम आपको दिखा रहे हैं उन लुटेरों को जो कि कैब में बिठाकर किस कदर सवारी का सब कुछ लूटने के बाद उसे चलती गाडी से फेंक देते थे। पुलिस की गिरफ्त मे मुंह पर नकाब डालकर खडे हुए तीन शख्स वो ही शातिर लुटेरे हैं जो सवारी को कैब में बिठाते हैं और पूरी प्लानिंग के साथ उसे रास्ते में लूट लेेते हैं।
इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए फरीदाबाद क्राईम ब्रांच सैक्टर 30 इचार्ज सतेन्द्र रावल ने बताया कि पिछले कई महीनों से फरीदाबाद गुडगांव रोड पर लूट की वारदातों को अंजाम दिया जा रहा था, मुखबिर की सूचना पर तीनों लुटेरों के बारे में पता लगा और उनकी टीम ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया। जिनसे पूछताछ के दौरान मालूम हुआ कि इमरान गुडगांव से फरीदाबाद के लिये ओला कैब चलता था जो कि सवारियों को बिठाने के बाद फरीदाबाद गुडगांव रोड पर पडने वाले पहाडी सुनसान क्षेत्र में अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर सवारी से बंदूक की नोक पर सब कुछ लूटने के बाद उसे चलती गाडी से फेंक देते थे, इस तरीके से इमरान और उसके अन्य साथियों ने जनवरी से अप्रैल तक 4 माह में करीब आधा दर्जन से ज्यादा वारदातों को अंजाम दिया है, जिसमें लूट का शिकार हुए 3 फरीदाबाद से हैं तो 2 गुडगांव से हैं, इतना ही नहीं सवारी से उनका एटीम कार्ड पिन नम्बर पूछकर उससे पैसे भी निकालते थे।  क्राईम की दुनिया में इमरान और राहुल पिछले कई सालों से सक्रिय है जो कि पहले भी लूट और चोरी की वारदातों के अरोप में जेल भी जा चुके हैं। सतेन्द्र ने बताया कि लूट के इस गिरोह में 5 सदस्य शामिल है जिनमें से दो गिरफ्त से बाहर है जिन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा। अभी तीनों लुटेरों से एक पिस्टल और 3 कारतूस बारामद कर लिये हैं।
वहीं लुटेरे इमरान की माने तो नशे की आदत ने उसे लुटेरा बना दिया नशे की लत को पूरा करने के लिये उसने टैक्सी में सवारियों को लिफ्ट देकर लूटना शुरू किया मगर अब पुलिस द्वारा पकडे जाने पर पछतावा है।

loading...
SHARE THIS

0 comments: