Wednesday, April 19, 2017

फरीदाबाद पुलिस की गिरफ्त से बाहर है एसआरएस मालिक अनिल जिंदल

srs-fraud-anil-jindal-faridabad

फरीदाबाद 19 अप्रैल,2017(abtaknews.com) एसआरएस गु्रप के चेयरमैन और उनके कारिंदों के खिलाफ आपराधिक मामला थाना सैक्टर-31 में दर्ज है, लेकिन अभी तक पुलिस ने इस मामलें में अनिल जिंदल और दूसरे आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं की है। जबकि एक आम आदमी पर मामूली धाराओं में मामला दर्ज होने पर भी पुलिस उसे गिरफ्तार करने में कोई देर नहीं लगाती है। अब सवाल उठता है कि क्या पुलिस अनिल जिंदल को गिरफ्तार कर पायेगी या फिर जांच के नाम पर मामलें को टालती रहेगी, ताकि पीडि़त पर दबाव बनाकर समझोता हो सकें। 
 सत्ता में केबीनेट मंत्री और ऊंचे पदों पर बैठे लोगों का एसआरएस के चेयरमैन अनिल जिंदल पर पूरा वरदहस्त है। इसके अलावा पुलिस विभाग के आला अधिकारियों से उनके संबंध और गाये-बगाहे फटीक व मंथली भी जग जाहिर है। इस तरह के दबाव से उबर कर पुलिस अधिकारी इतनी हिम्मत जुटा पायेगें कि विभिन्न धाराओं के आरोपी अनिल जिंदल को एक बार सलाखों के पीछे पंहुचा सकें। आपकों याद दिला दें कि बल्लभगढ़ के व्यापारी सतीश गोयल आत्महत्या मामलें में भी अनिल जिंदल के खिलाफ संगीन धाराओं में मामला दर्ज हुआ था। लेकिन तब भी पुलिस ने जिंदल की गिरफ्तारी नहीं की और मामलें को लटका दिया ताकि दोनों पक्ष समझोता कर लें और पुलिस की भी चांदी हो जाएं। हुआ भी ऐसा ही। इस बार अनिल जिंदल फिर से पुलिस की नजर में है, क्योंकि होडल निवासी मक्कड ने अनिल जिंदल और उनके कारिंदों के खिलाफ मारपीट और लूटपाट का मामला दर्ज करा रखा है। वेसे तो एसआरएस के पीडि़त निवेशकों की कमी नहीं है। लेकिन ऊंची पंहुच और रसूख के चलते ये लोग आराम की जिंदगी जीते है और बेचारी गरीब जनता न्याय के लिए भटकती रहती है। अब सवाल उठता है कि क्या इतिहास स्वयं को फिर से दोहरायेगा, या फिर जिंदल की गिरफ्तारी से इस बार नया इतिहास बनेगा ?

loading...
SHARE THIS

0 comments: