Tuesday, April 25, 2017

कैबिनेट मिनिस्टर विपुल गोयल के घर के निकट डकैती, सेक्टर-17 में दहशत,सुरक्षा राम भरोसे

dakaiti-in-sector-17-near-cabinate-haryana-minister-vipul-goel-residence-faridabad

फरीदाबाद (abtaknews.com )25 अप्रैल,2017;  कैबिनेट मिनिस्टर विपुल गोयल के घर के निकट डकैती, दहशत का माहौल, सुरक्षा राम भरोसे। प्रॉपर्टी डीलर के घर में घुसे 7 डकैत, लूटपाट का हुआ कड़ा विरोध तो उलटे पाव भागे डकैत। सेक्टर 17 के मकान नंबर 315 में प्रॉपर्टी डीलर जनक गुप्ता के घर में मंगलवार सुबह 3 बजे के करीब लॉक तोड़े जाने की आवाज पर मकान मालिक जनक गुप्ता जाग गए जैसे ही जनक आवाज की दिशा में आये तो घर में घुसे बदमाशो ने उनपर रॉड से हमला कर दिया उन्होंने शोर मचाया तो घर  सदस्य जाग गए। घर के सभी सदस्यों ने जोर जोर से शोर मचाना शुरू  जिससे डरकर सभी बदमाश भाग गए , इस हमले में घर के तीन सदस्यों को चोटें आई।  जिन्हे सिविल हॉस्पिटल बी के में उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है। घर में घुसने वालों की संख्या करीब 7 बताई जा रही है।  स्थानीय पुलिस जाँच में जुट गई है।
dakaiti-in-sector-17-near-cabinate-haryana-minister-vipul-goel-residence-faridabad

कांग्रेस विधायक ललित नगर के घर से मात्र 100 मीटर और चेयरमैन अजय गौड़ के घर से मात्र चंद कदमों की दूरी और सेक्टर 17  हरियाणा सरकार के कैबिनेट मिनिस्टर विपुल गोयल के निवास से घटनास्थल मात्र 500 मीटर की दूरी पर है। इतने वीवीआईपी एरिया में डकैती जैसी घटना पुलिस की कार्य शैली को संदेह के घेरे में खड़ी करती है।  उक्त घटना दर्शाती है कि सेक्टर की सुरक्षा राम भरोसे ही है।  पाश इलाके में ऐसी घटना से लोगों में डर और दहशत का माहौल है।   

जनक राज गुप्ता ने अबतक न्यूज़ पोर्टल टीम को बताया कि  सेक्टर-17 के मकान नंबर -315 में रहते हैं उनका यह मकान  दो मंजिला मकान हैं, वह अपनी पत्नी मधु गुप्ता व बेटा अंकित गुप्ता के साथ ग्राऊंड फ्लोर पर रहतें हैं, जबकि ऊपरी मंजिल पर उनके बड़े भाई सोनू गुप्ता अपने परिवार के साथ रहतें हैं,उनका कहना हैं कि आज तड़के पौने पांच बाथरूम की अर्जेस्ट फेन के स्थान को तोड़ उनके घर में हथियार बंद घुसने की कोशिश की, तोड़नें की  आवाज को सुन कर उनके बेटे अंकित की नींद टूट गईं और वह बहार आकर जब घर वाला गेट जैसे ही खोला की, हथियार बंद बदमाशों ने उसे पकड़ लिया और उसके सिर में  जोर से हथोड़ा मारा, जिससे उसका सिर फट गया और और उसके सिर से खून बहनें लगा, फिर  वह लोग उसे घसीट कर घर के अंदर ले गया, इसके बाद बदमाशों ने उनकी पत्नी मधु गुप्ता के सिर में हथौड़ा मारा,जिससे उनका भी सिर फट  गया ।
इस दौरान बदमाशों से हुए मुकाबलें में उनके सिर में हथौड़ा लग गया और उनका भी सिर फट गया। उनका कहना हैं कि इस दौरान उन्होनें अपने मोबाइल फोन से कई बार पुलिस कंट्रोल रूम में फोन किया, पर उनका फोन वहां पर किसी ने भी नहीं उठाया, वहीँ पर कई और लोगों का कहना हैं कि वह लोग भी अपने मोबाइल फोन से कई- कई बार पुलिस कंट्रोल रूम को फोन लगाया,पर वह नंबर दिल्ली के पुलिस कंट्रोल रूम में लग रहा था, वहां की पुलिस यह कह रहीं थी, कि आप फरीदाबाद पुलिस कंट्रोल रूम का नंबर लिखों, उस दौरान यह लोग नंबर लिखनें की स्थिति में नहीं थे, वैसे भी उस दौरान उनका कमरे का दरवाजा  खोलने एंव  बंद करने को लेकर बदमाशों से उनका संघर्ष चल रहा था, सवाल के जवाव में उनका कहना हैं कि अभी एक मोबाइल फोन ले जाने की जानकारी हैं और अलमारी के अंदर से कया -क्या सामान बदमाश ले गए हैं, उसका तुरंत हिसाब लगाना मुश्किल हैं, उनका कहना हैं कि इसके बाद उनके परिजन उन्हें ईलाज करानें हेतु निजी अस्पताल में ले गए। इस प्रकरण में  डीसीपी सेंट्रल भूपेंद्र सिंह का कहना हैं कि मोबाइल फोन करने पर  दिल्ली की पुलिस कंट्रोल रूम में फोन मिलने की बात उनके सामने हैं, उसे आज चेक करवाया जाएगा, उनका कहना हैं कि इस केस में क्राइम सैल की तीन अलग - अलग टीमें बनाई गईं हैं, जोकि बदमाशों की तलाश में सरगर्मी के साथ जुट गईं हैं, उनका कहना हैं कि बदमाशों की पहचान सीसीटीवी फुटेज के आधार पर की जा रहीं हैं, उनका कहना हैं कि पीड़ित परिवार की साहस की वजह से बदमाश लोग पूरी तरह से लूट की वारदात को अंजाम देने में सफल नहीं हो पाए, पर उन्होनें दावा किया हैं, जल्द ही यह बदमाश लोग पुलिस गिरफ्त में होंगें।

loading...
SHARE THIS

0 comments: