Thursday, April 6, 2017

तबादला नीति, ईपीएफ और ईएसआई की मांगों को लेकर निगम कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन




फरीदाबाद(abtaknews.com ) तबादला नीति, ईपीएफ और ईएसआई जैसी समस्याओं को लेकर आज एक बार फिर नगर निगम फरीदाबाद के सफाई कर्मचारियो ने निगम मुख्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया और जमकर मुर्दाबाद के नारे लगाये, कर्मचारियों का आरोप है कि निगम प्रशासन व मेयर सफाई कर्मचारियों को खाली वार्ड बताकर उनमें समायोजित करना चाहती है, जबकि निगम में कर्मचारियों की भारी कमी है।

निगम मुख्यालय पर अपनी जरूरी मांगों को लेकर नगर निगम सफाई कर्मचारिओ ने खूब  जिंदाबाद मुर्दाबाद के नारे लगाये और    सरकार और निगम प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। इस में कर्मचारियों के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर ने कहा कि निगम प्रशासन व मेयर सफाई कर्मचारियों को खाली वार्ड बताकर उनमें समायोजित करना चाहती है, जबकि नगर निगम की आबादी के अनुसार यूनियन ने पहले से ही सफाई कर्मचारियों की भर्ती की मांग करती रही है। वर्तमान में भी नगर निगम में 300 सफाई कर्मचारियों के पद खाली पड़े हुए है। इन पदों को भर्ती के माध्यम से भरकर जो वार्ड खाली पड़े है उनमें समायोजित किया जाए न की इन कार्य कर रहे कर्मचारियों को छेड़ा जाए। इसी को लेकर आज यूनियन ने अतिरिक्त आयुक्त के नाम का ज्ञापन उनकी अनुपस्थिति में उनकी पीए रूचि शर्मा को दे दिया है और अतिरिक्त आयुक्त को चेताया है कि सफाई कर्मचारियों को रेशनलाईजेशन के नाम पर तबादला ना किया जाए।
सफाई कर्मचारी प्रधान बलवीर बालगुहेर ने अबतक न्यूज़ पोर्टल टीम को जानकारी देते हुए बताया कि लेखा विभाग से संबंधित मांगों को लेकर भी वित्तीय नियंत्रक के कार्यालय का भी घेराव किया गया और उनके विभाग से संबंधित मांगों का नोटिस भी उनकी गैर मौजूदगी में लेखा अधिकारी विशाल कौशिक को दिया गया। कर्मचारियों की मांगों में कर्मचारियों का जीपीएफ को कम्प्यूटराईज किया जाए, 2014 से अनुबंध के आधार पर कार्यरत कर्मचारियों को ईपीएफ का लेखा-जोखा उपलब्ध कराया जाए व नगर निगम में कार्यरत अनुबंध आधार के कर्मचारियों का ईएसआई का लाभ दिया जाए व अन्य विभागों की तर्ज पर जीआईएस को नगर निगम कर्मचारियों पर लागू किया जाए। अगर इन सभी मांगों का 15 दिनों के अंदर-अंदर निपटारा नहीं किया जाएगा तो कर्मचारी लेखा विभाग के सामने धरना पर बैठेगें।


loading...
SHARE THIS

0 comments: