Monday, April 17, 2017

रिश्वखोर पुलिस कर्मियों को निलबिंत करवाने वाले को फर्जी मामले में फंसाकर थर्ड डिग्री देकर दिया सम्मान


फरीदाबाद 17 अप्रैल,2017(abtaknews.com) दो रिश्वतखोर पुलिस कर्मियों को निलबिंत करवाने की सजा सतीश नामक व्यक्ति को पुलिस कर्मियों ने रंजिश मानकर 11 महीने बाद दी, मामला फरीदाबाद का है जहां बाढ़ मोहल्ला ओल्ड फरीदाबाद के निवासी सतीश कुमार ने 14 मई 2016 को थाना ओल्ड में तैनात दो पुलिस कर्मियों अनिल कुमार एएसआई और प्रमोद हैड कांस्टेबल को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार करवाया था, जिसपर कार्यवाही करते हुए पुलिस कमीश्रर हनीफ कुरेशी ने दोनों पुलिस कर्मियों को निलबिंत कर दिया था, जिससे गुस्साये उनके साथियों ने 13 अप्रैल 2017 को अपने परिवार के साथ बराही माता का मेला देखने गये सतीश कुमार को उठा लिया और ओल्ड थाने में ले जाकर पूरी रात थर्ड डिग्री का इस्तेमाल करते हुए जमकर पिटाई की, जिससे उनके पैर में फैक्चर हो गया है, इतना ही नहीं उनसे मोबाईल फोन, एटीएम कार्ड और करीब 27 हजार रूपये छीन लिये। पुलिस की रंजिश से की गई पिटाई की शिकायत पीडित सतीश ने पुलिस कमीश्रर को दे दी है जिसपर उन्होंने कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है। पीडित सतीश कुमार के पैरों पर दिखाई दे रहे चोट के निशान किसी गुडा तत्व द्वारा की गई मारपीट के नहीं है बल्कि ये कानून के रखवाले पुलिस कर्मियों द्वारा बर्बरतापूर्वक की गई बदले की भावना से पिटाई के हैं। जिन्होंने सतीश को दो रिश्वतखोर पुलिस कर्मियों निलबिंत करवाने का ईनाम दिया है।  पीडित सतीश कुमार की माने तो मई 2016 में ओल्ड थाने के दो पुलिस कर्मियों ने उनके घर से 5 शराब की बोतलें बरामद की थी जिन्हें वो 14 बोतलों की बरामदगी दिखाकर मामला दर्ज कर रहे थे, ऐसा न करने के लिये उन्होंने सतीश से 15 हजार रूपये रिश्वत के मांगे थे जिसकी सूचना उन्होंने विजिलेंस एसीपी को दी और पुलिस आयुक्त हनीफ कुरेशी ने टीम गठित कर दोनों पुलिस कर्मियों के पास से 11 हजार रूपये बरामद कर दोनों को रिश्वत लेने के आरोप में निलंबित कर दिया था, जिसकी रंजिश बनाकर पुलिस कर्मियों के अन्य दोस्तों ने पूरे 11 माह बाद उन्हें 13 अप्रैल को बराही माता के मेले से उठा लिया और थाना ओल्ड में बंद कर जमकर पिटाई की जिसके उनके पैर में फैक्चर और शरीर पर चोट निशान भी है। ये बर्बतापूर्वक पिटाई करने वाले सीआईए डीएलएफ के पुलिस कर्मी थे जिन्होंने मामला वापिस लेने के लिये दबाब डाला और कहा कि या तो शहर छोड दे अन्यथा वो उसे एनकाउंटर में मार देंगे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: