Wednesday, April 5, 2017

कांग्रेसियों ने शराब के ठेकों को आबादी से दूर खोलने हेतु राज्यपाल को भेजा ज्ञापन

vikash-chodhary-congress-leader-faridabad

फरीदाबाद 5 अप्रैल,2017(abtaknews.com) रिहायशी इलाकों, शैक्षणिक संस्थानों व धार्मिक स्थलों के समीप खोले जा रहे शराब के ठेकों के विरोध में आज इंदिरा गांधी शताब्दी कमेटी के प्रदेश प्रवक्ता विकास चौधरी के नेतृत्व मेें कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने जिला उपायुक्त की अनुपस्थिति में सिटी मजिस्ट्रेट रीगन कुमार के माध्यम से महामहिम राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा। इस मौके पर विकास चौधरी ने कहा कि रिहायशी इलाकों, शैक्षणिक संस्थानों व धार्मिक स्थलों के समीप सभी कायदे-कानूनों को ताक पर रखकर शराब के ठेके खोले जा रहे है। इन शराब के ठेकों के खुलने से असामाजिक तत्वों का जमावड़ा रहता है, जिस कारण महिलाओं, छात्र-छात्राओं एवं आम आदमी का आवागमन करना मुश्किल हो जाता है और कई बार शराब के ठेकों के समीप असामाजिक तत्वों झगड़ा व मारपीट करने पर भी उतारू हो जाते है। उन्होंने कहा कि एक तरफ तो प्रदेश की भाजपा सरकार समाज को नशामुक्त बनाने का संदेश देती है, जबकि दूसरी तरफ शराब मालिकों को मनमानी करने की खुली छूट दे रखी है और वह मनचाही जगहों पर शराब के ठेके खोल रहे है, जिससे हमारी संस्कृति पर गलत प्रभाव पड़ रहा है। आलम यह है कि अब महिलाओं को सडक़ पर उतरकर जगह-जगह इन शराब के ठेकों को बंद कराने के लिए विरोध-प्रदर्शन करने पड़ रहे है और सरकार है कि पूरी तरह से मूकदर्शक बनी हुई है। उन्होंने कहा कि हमारे प्रदेश में महिलाएं घर से तब निकलती है, जब पानी सिर से ऊपर हो जाता है, ऐसे में सरकार को तुरंत कार्यवाही करते हुए इन शराब के ठेकों को बंद करवाना चाहिए और अन्य जगहों पर स्थानांतरित करना चाहिए, जिससे कि आमजन का कोई परेशानी न हो। श्री चौधरी ने इसी मुद्दे को लेकर पलवल में कल जब महिलाएं शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रही थी तो प्रशासन द्वारा तानाशाही रवैये अपनाते हुए महिलाओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया, जिसकी कांग्रेस पार्टी कड़ी निंदा करती है। उन्होंने ज्ञापन के माध्यम से महामहिम राज्यपाल से मांग की कि महिलाओं पर दर्ज हुए मुकदमें तुरंत रद्द किए जाएं और शराब के ठेके रिहायशी, शैक्षणिक व धार्मिक स्थलों से दूर खोले जाएंगे ताकि लोगों की भावनाएं आहत न हो। उन्होंने प्रशासन को चेताते हुए कहा कि अगर जल्द ही सरकार ने इस मुद्दे पर गंभीर कदम नहीं उठाए तो कांग्रेस कार्यकर्ता सडक़ों पर विरोध-प्रदर्शन करने से भी गुरेज नहीं करेंगे। इस मौके पर राजू धारीवाल, पवन गोयल, सुनील यादव, राकेश बघेल, पंकज कुमार, ब्रह्मप्रकाश गोयल, सुखविन्द्र जैलदार, बीनू सिंह, गुड्डू बुखारपुर, योगेश शर्मा, आशीष सिंह, कमल गुप्ता, सोनू मलिक, नरेश बडग़ुर्जर आदि मुख्य रूप से मौजूद थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: