Tuesday, April 4, 2017

वैष्णोदेवी मंदिर में अष्ठमी पर कंजक पूजकर की महागौरी की आरती


फरीदाबाद(abtaknews.com ) श्री महारानी वैष्णोदेवी मंदिर  में नवरात्रों के  आठवें दिन यानि की अष्टमी पर कंजक पूजकर दुर्गा के आठवें स्वरूप माता महागौरी की अराधना की गई। इस अवसर पर प्रातकाल भक्तों ने कंजक को प्रसाद का भोग लगाकर एवं उनका आर्शीवाद ग्रहण कर अपना व्रत खोला। इसके पश्चात श्रद्धालुओं ने महारानी वैष्णोदेवी मंदिर में पहुंचकर महागौरी के दरबार में अपनी हाजिरी लगाई।
सैंकड़ों की संख्या में लाईन लगाकर महागौरी के दरबार में पहुंचे भक्तों ने मां की आरती उतारी। इसके बाद प्रसाद ग्रहण कर मां से मुराद मांगी। इस अवसर पर मंदिर संस्थान के प्रधान जगदीश भाटिया ने सभी भक्तों का स्वागत किया।  उन्होंने भक्तों को बताया कि दुर्गा के आठवें स्वरूप मां महागौरी को शुद्ध देसी घी से बने हुए हलवे का भोग लगाया जाता है। महागौरी को शुद्ध देसी घी से बना हुआ हलवा पूरी अति प्रिय है।
 मां का प्रिय रंग गुलाबी माना जाता है। इस अवसर पर श्री भाटिया ने मंदिर में उपस्थित सभी श्रद्धालुओं को पावन नवरात्रों एवं अष्टमी पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर श्री भाटिया ने बताया कि महागौरी औषधि के रूप में भी अपने भक्तों को लाभ देती है। महागौरी का एक स्वरूप तुलसी के पौधे में भी विराजमान है। मां महागौरी का ध्यान कर जो लोग अपने घरों में तुलसी के इस शुभ पौधे को लगाते हैं, उन्हें हर प्रकार का पुण्य लाभ मिलता है। तुलसी का सेवन करने से भक्तों को अनेक प्रकार की बीमारियों से छुटकार मिलता है। इसलिए आज के दिन महागौरी की पूजा के साथ साथ भक्तों को तुलसी के पौधे की भी पूजा अवश्य करनी चाहिए।

इस अवसर पर नवरात्रे के आठवें दिन मंदिर संस्थान के चेयरमैन प्रताप भाटिया, कोषाध्यक्ष गिर्राजदत्त गौड़, प्रभारी बसंत कालड़ा,  शिवम, राहुल, धीरज, रोहित, टोनी, नीरज, मनीष, सोनू,  सचिन,  हिमांशु, तुषार,  दिनेश चितकारा,  कंवल खत्री, अजय नाथ, अनिल ग्रोवर मोहित, तरूण , सतीश, साहिल, चिराग, अनुज, ललित, आदित्य, अमित, मनीष, बीआर कथूरिया, , विनोद पांडे, नीरज, मनदीप, आर के बत्तरा, सागर, हुक्मचंद एवं रवि प्रदीप ने भी मां के दरबार में आयोजित पूजन में शामिल होकर धर्म लाभ ग्रहण किया।


loading...
SHARE THIS

0 comments: