Tuesday, April 4, 2017

कांग्रेसी नेता राकेश भड़ाना बोले भाजपा के नेता ही लगा रहे हैं सरकार पर भ्रष्टाचार के आरोप


फरीदाबाद(abtaknews.com) : हरियाणा सरकार में भ्रष्टाचार चरम पर है और आज जब स्वयं भाजपा के नेता ही अपनी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने को मजबूर हो गए हैं, जिससे साफ होता है कि सरकार में किस तरह भ्रष्टाचार हावी हो चुका है। उक्त वक्तव्य हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी ओबीसी विभाग के चेयरमैन राकेश भड़ाना ने कहा कि अपने कार्यालय पर आयोजित प्रैसवार्ता को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। श्री भड़ाना ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि स्वच्छता अभियान के नाम पर जनता को ठगा गया है। नेताओं एवं अधिकारियों ने मिलकर करोड़ों रुपए का घोटाला स्वच्छता अभियान के नाम पर किया है। भाजपा नेताओं ने सिर्फ फोटो खिंचवाकर झूठी वाहवाही लूटने के सिवा कोई कार्य नहीं किया। भड़ाना ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री खट्टर बताएं कि स्वच्छता अभियान के नाम पर सरकार ने कितने पैसे खर्च किए और कहां-कहां किए। ओबीसी चेयरमैन राकेश भड़ाना ने कहा कि मुख्यमंत्री एनआईटी विधानसभा क्षेत्र में 200 करोड़ की घोषणा करके गए थे, मगर आज तक एक भी कार्य एनआईटी विधानसभा क्षेत्र में नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि अगर शीघ्र ही जनता की बिजली, पानी, सीवर जैसी मूलभूत समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो वो जनता के साथ सडक़ों पर उतरने को मजबूर हेंगे।  राकेश भड़ाना ने कहा कि एक तो प्रदेश की जनता गर्मी में बिजली कटों से परेशान है, वहीं बिजली विभाग द्वारा की जा रही छापेमारियों ने जनता को खून के आंसू पीने को मजबूर कर दिया है। मगर जब वही मार खुद भाजपा पार्टी पदाधिकारियों पर पड़ी तो उनको भ्रष्टाचार दिखाई देने लगा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार हर मोर्चे पर फेल हो चुकी है, न तो सरकार में बैठे नेता और न ही अधिकारी काबू में हैं। एक तरफ बागी विधायकोंं ने अपनी ही सरकार की भ्रष्ट नीतियों के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है, वहीं दूसरी तरफ एनआईटी विधानसभा से पूर्व प्रत्याशी एवं भाजयुमो के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष अपनी ही सरकार में बैठे अधिकारियों पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर यह जता दिया है कि यह सरकार पूरी तरह दिशाहीन है और अधिकारी बेकाबू हैं। ओबीसी चेयरमैन ने कहा कि भाजपा सरकार के भ्रष्टाचार मुक्त शासन की पूरी तरह पोल खुल चुकी हैं, जब एनआईटी विस से पूर्व भाजपा प्रत्याशी स्वयं ही सरकार व प्रशासन पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगा रहे हैं। ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि भ्रष्टाचार पर जीरो टोलरेंस नीति की बात करने वाले मुख्यमंत्री को प्रदेश की जनता कैसे टोलरेट कर रही  है। इस मौके पर श्री भड़ाना के साथ जतिन भाटिया, शब्बीर खान, प्रसन्नजीत, विकास भाटी, मास्टर जी, विजित त्यागी, कमल अगिनहोत्री, श्रवण महेश्वरी, सतबीर तोमर, देवा भड़ाना, जितेन्द्र भड़ाना, मनीष गौड, भुवनेश शर्मा आदि सैंकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे।


loading...
SHARE THIS

0 comments: