Friday, April 7, 2017

मोबाईल वैनों को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना


पलवल, 07 अप्रैल,2017(abtaknews.com )कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा जिला में गेंहू के बचे हुए अवशेषो को ना जलाने के संबंध में किसानों को जागरूक करने के लिए उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने आज दो मोबाईल वैनों को हरी झंडी दिखाकर लघु सचिवालय से रवाना किया। इस अवसर पर कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उपनिदेशक पवन कुमार शर्मा मौजूद थे।
उक्त मोबाईल वैन 07 अप्रैल से 15 अप्रैल तक होडल, हथीन, पलवल व हसनपुर क्षेत्र के गांव-गांव में जाकर गेंहू के बचे हुए अवशेषो को ना जलाने के लिए किसानों को जागरूक करेंगी। 
उन्होंने बताया कि फसलों के अवशेष, फाने, ठूंठ जलाने से भूमि में नाईट्रोजन की कमी हो जाती है जिससे उत्पादन घटता है। भूमि के मित्र कीट मर जाने से अगली फसल में कीटों व रोगों का प्रकोप बढ जाता है। जमीन के लिए जरूरी माइक्रोन्यूट्रिइन्टस नष्ट हो जाते हैं। भूमि की उपजाऊ शक्ति में कमी आ जाती है। वायु में प्रदूषण फैलता है, जिससे लोगों की सेहत जैसे कि फैफडों और दिल की बिमारी का खतरा पैदा होता है। इसके अतिरिक्त पड़ोस के खेतों में आग लगने का खतरा बना रहता है। गेंहू के अवशेष जलाने से भूसा व गेंहू की हानि होती है जबकि स्ट्रारिपर से बचे हुए अवशेषो से पशुओं के लिए भूसा बनाया जा सकता है।
उन्होंने बताया कि वायु प्रदूषण अधिनियम के तहत फसलों के बचे हुए अवशेष, फाने, ठूंठ को जलाना प्रदेश में प्रतिबंधित है। एवं दंडनीय अपराध है। उक्त वायु प्रदूषण अधिनियम की अवहेलना करने पर दोषी के विरूध सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

loading...
SHARE THIS

0 comments: