Monday, April 24, 2017

मुख्यमंत्री ने दुधौला में रेनीवेल व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का किया शिलान्यास



पलवल 24 अप्रैल,2017(abtaknews.com ) मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश में आगामी एक वर्ष की समयावधि में सभी सरकारी भवनों में एलईडी लाईटे लगाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने सोमवार को पलवल जिला के दुधौला गांव में रेनीवेल आधारित पेयजल संवर्धन योजना व प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र की आधारशिला रखे जाने के अवसर पर उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 01 करोड़ 11 लाख एलईडी लाईटें लगवाई जा चुकी हैं और आगमी एक वर्ष में 03 करोड़ लाईटे लगवाने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि आदर्श गांव बनाने की योजना को गति देने की दिशा में गांवों में विकास की स्थिति व आवश्यकताओं का विवरण प्राप्त करने के लिए एक वैबसाइट बनाई गई है। इसके अतिरिक्त स्वपे्ररित आदर्श गांव योजना के अंतर्गत भी कार्यक्रम को ओर अधिक गति दी जाएगी। 
 मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में विकास को अभूतपूर्व रूप से गति देने की दिशा में इस बार 01 लाख करोड़ रूपये से अधिक का बजट बनाया गया है। उन्होंने शिक्षा, स्वास्थ्य,कृषि, सिंचाई,उद्योग,खेल,पेयजल,महिला सशक्तिकरण व समाज के कमजोर वर्गों के उत्थान एवं कल्याण के लिए कार्यान्वित की जा रही विभिन्न नीतियों एवं योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि सभी क्षेत्रों एवं वर्गों का विकास करवाना प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। 
    जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने उज्जवला योजना का जिक्र करते हुए कहा कि सरकार द्वारा विभिन्न परिवारों को 06 लाख घरेलू गैस सिलेण्डर वितिरित किए जा चुके हैं। उन्होंने जनसभा में उपस्थित लोगों से पूछा कि ऐसे व्यक्ति हाथ खड़े करे  जिनके घरों में गैस सिलेण्डर नहीं हैं। ऐसे व्यक्तियों द्वारा हाथ खड़े किए जाने पर मुख्यमंत्री ने तत्काल प्रशासनिक अधिकारियों व विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अविलम्ब रूप से इन लोगों को तत्काल घरेलू गैस सिलेण्डर उपलब्ध करवाएं। मुख्यमंत्री ने बताया कि उन्होंने घरेलू गैस सिलेण्डर से वंचित रहे सभी परिवारों को अविलम्ब रूप से गैस सिलेण्डर उपलब्ध करवाने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हुए हैं।
    इस अवसर पर पृथला विधानसभा क्षेत्र के विधायक टेकचन्द शर्मा की ओर से प्रस्तुत मांग-पत्र पर प्रतिक्रिया करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्रीय जल आयोग की सहमति से फरीदाबाद व पलवल जिला क्षेत्र में यमुना नदी पर एक बैराज बनाया जाएगा। मोहना गांव में 02 करोड़ रूपये की लागत से बस स्टैण्ड का निर्माण किया जाएगा। कुल 01 करोड़ 65 लाख रूपये की लागत से गौंछी ड्रेन की खुदाई करवाई जाएगी। गौंच्छी ड्रेन पर  समयपुर-सरूरपुर पुल, हरफली-छपरौला पुल व भनकपुर-हरफला पुल का 02 करोड़ 50 लाख रूपय लागत से निर्माण करवाया जाएगा। इस क्षेत्र के विभिन्न दो रजवाहों को पक्का करने के संदर्भ में उत्तर प्रदेश सरकार से तालमेल कर कार्यवाही जल्द प्रारंभ की जाएगी। पलवल में बाल भवन में कौशल विकास केन्द्र प्रारंभ किया जाएगा। दुधौला गांव को आदर्श गांव के रूप में विकसित करने के लिए मुख्यमंत्री ने 02 करोड़ रूपये की घोषाणा की। उन्होंने कहा कि पृथला गांव के स्टेडियम में एक खेल प्रशिक्षक नियुक्त कर दिया गया है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि पृथला में खेलों का बेहतर विकास हो और आवश्यकतानुसार विभिन्न  खेलों के खेल प्रशिक्षक नियुक्त कर दिए जाएंगे। 
     
    इस अवसर पर केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री श्री कृष्णपाल गुर्जर, उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री श्री विपुल गोयल, जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी राज्यमंत्री डॉं. बनवारी लाल, मुख्य संसदीय सचिव श्रीमती सीमा त्रिखा, विधायक श्री टेकचन्द शर्मा, विधायक श्री मूलचन्द शर्मा, मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव श्री दीपक मंगला, पूर्व मंत्री श्री हर्ष कुमार, पूर्व विधायक श्री रामरतन ,चेयरमैन सुरेन्द्र तेवतिया, अजय गौड़, नयनपाल रावत,गोपाल शर्मा, पंचायत समिति पलवल के चेयरमैन पे्रमचन्द, पूर्व जिलाध्यक्ष गिर्राज डागर,मुकेश सिंगला,पवन अग्रवाल,राधेश्याम कालड़ा, अविनाश शर्मा, तेजपाल यादव, मार्किट कमेटी पलवल के चेयरमैन रणबीर सिंह सहित विभिन्न गांवों के पंच-सरपंच, पार्षदगण व अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे।   
उपायुक्त श्री अशोक कुमार शर्मा, पुलिस महानिरीक्षक ओमप्रकाश दून पुलिस अधीक्षक श्रीमती सुलोचना गजराज, अतिरिक्त उपायुक्त श्रीमती अंजू चौधरी,पलवल के उपमण्डल अधिकारी(ना.) एस.के.चहल, होडल के उपमण्डल अधिकारी(ना.)प्रताप सिंह, जनस्वास्थ्य विभाग के अधीक्षक अभियंता ललीत अरोड़,कार्यकारी अभियंता संजीव दूहन व अन्य अधिकारी मौजूद थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: