Friday, April 14, 2017

सराय ख्वाजा सरकारी स्कूल में हिन्दी की उपयोगिता व व्यावसायिक महता पर आयोजन


फरीदाबाद (abtaknews.com ) राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, सराय ख्वाजा में आज प्राचार्य डाक्टर सुरेश सिंह की अघ्यक्षता में राष्ट्रीय सेवा योजना अर्थात एन एस एस यूनिट के क्रार्यक्रम अघिकारी रविन्द्र कुमार मनचन्दा और रुप किशोर शर्मा ने आज सुबह के सत्र में  दिल्ली विश्वविद्यालय के श्यामा प्रसाद मुखर्जी महिला महाविद्यालय के हिन्दी के एसिस्टेंट प्रोफेसर राजेश कुमार को मुख्य अतिथि के रुप में आमंत्रित किया। राजेश कुमार ने हिन्दी की उपादेयता, प्रासंगिकता व व्यवसायिक महता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हिन्दी में रोजगार के बहुत लुभावने अवसर है अध्यापक, लैक्चरर, अनुवादक, लेखक, पत्रकारिता, न्यूज रीडर, स्क्रिप्ट राईटिंग व मीडिया आदि अनेक क्षेत्रों में अनगिनत सम्भवानाएं है। उन्होनें छात्रों से कहा कि हिन्दी भारत की राजभाषा है और आज हिन्दी  भाषा  पूरी  दुनिया  के  माथे  पर  बिन्दी की तरह  चमक  रही  है।

हिन्दी  भाषा विश्व की दूसरी सब से ज्यादा बोली जाने वाली भाषा बन चुकी है इसलिए आप अवसरों की कमी का मलाल न करें, जीवन में अपने सपनों को साकार करने के लिए ईमानदारी से निरन्तर पऱिश्रम करते रहे, अपने आप पर भरोसा रख कर सफलता अर्जित करें। राजेश कुमार ने बच्चों को हमेशा मेहनत करने और ज्ञान प्राप्त करने का मूल मन्त्र दिया तथा निरन्तर लक्ष्य की प्राप्ति के लिए प्रयास करते रहने के लिए कहा।
 मध्याह अपरान्त सत्र में शिक्षाविद व निवर्तमान प्राचार्य श्री हरीश चन्द धमीजा, राजकीय बाल वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, एन आई टी नम्बर तीन के प्राचार्य श्री सुरेन्द्र मदान, एन आई टी नम्बर तीन के वरिष्ठ गणित प्रवक्ता राजेश शर्मा, विक्रम विवेक, ब्रहम्देव यादव, एसिस्टेंट प्रोफेसर राजेश कुमार और निवर्तमान प्राचार्य श्री ओ पी यादव ने एन एस एस यूनिटस के एक सौ सात स्वयंसेवकों को विनम्र होने तथा हमेशा दूसरों की सेवा में तत्पर होने की सीख दी। श्री सुरेन्द्र मदान ने स्वयंसेवकों से कहा कि वास्तव में दूसरों की सहायता कर के जो सुकून प्राप्त होता है वह अनिर्वचनीय है।
 आज सायंकालीन सत्र एन एस एस यूनिटस स्वयंसेवकों की एनर्जी कन्जरवेशन विषय पर पेंटिंग प्रतियोगिता भी करवाई गई। दीक्षा, आरती पाल को प्रथम, कविता व सागर को द्वितीय तथा प्रशान्त व शिवम शर्मा को तृतीय
घेषित किया गया। श्री हरीश चन्द धमीजा, श्री सुरेन्द्र मदान, गणित प्रवक्ता राजेश शर्मा, निवर्तमान प्राचार्य श्री ओ पी यादव, विक्रम विवेक, प्राचार्य डाक्टर सुरेश सिंह, ब्रहम्देव यादव, एसिस्टेंट प्रोफेसर राजेश कुमार, रविन्द्र कुमार मनचन्दा और रुप किशोर शर्मा ने स्वयंसेवकों द्वारा एनर्जी कन्जरवेशन बारे किए जा रहे प्रयासों की सराहना की।


loading...
SHARE THIS

0 comments: