Saturday, April 15, 2017

सराय ख्वाजा सरकारी स्कूल में बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान


फरीदाबाद (abtaknews.com)एन.एस.एस. इकाईयों ने राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा के विद्यालय में प्राचार्य डाक्टर सुरेश सिंह की अघ्यक्षता में बेटी बचाओ मंच, पंजाबी फैडरेशन फरीदाबाद के सहयोग सेे राष्ट्रीय सेवा योजना प्रभारी रविन्द्र कुमार मनचन्दा और रुप किशोर शर्मा ने ‘‘बेटी बचाओं - बेटी पढाओ’’ अभियान चलाया। मनचन्दा नेे ‘बेटा - बेटी एक समान, दोनो को दो पूरा सम्मान’ के उदघोष के साथ एन एस एस विशेष शिविर के पाॅचवें दिन ‘बेटी बचाओ बेटी पढाओ’ जागरुकता शुरु किया। उन्हानें कहा बेटियां किसी भी प्रकार से बेटांे से कम नही है बेटियां शिक्षा के क्षेत्र से लेकर अन्तरिक्ष तक, विमान चालन से लेकर सेनाओं तक तथा प्रमुख वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों के सी ई ओ आदि सभी स्थानो पर अपनी भूमिका का निर्वाह जिम्मेदारी से और सफलता से कर रही है। उन्होनें स्वंय सेवकों को गिरते लिंगानुपात के बारे में बताया तथा कहा कि  आज लोगों में महिलाओं (कन्याओं) की असुरक्षा बारे, दहेज के कारण तथा यह मिथ कि लड़कों से वंश चलता है, चिन्ताएं प्रबल है। इन सब कारणों की वजह से लोग प्रसव पूर्व लिंग जाँच द्वारा जन्म से पूर्व ही गर्भ में कन्या-भू्रण की हत्या करने पर उतारू हैं। पी एन डी टी एक्ट सख्ती से लागू किए जाने से अजन्मी बालिका भू्रण हत्या दर में कमी आई है परन्तु अभी काफी कुछ करना बाकी है।

बेटी बचाओ मंच, पंजाबी फैडरेशन फरीदाबाद के प्रधान हरीश चन्द आजाद, तिलक राज शर्मा और माघवी सक्सैना ने राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवको को समाज में निरन्तर गिर रहे लिंगानुपात के बारे में लोगों को जागरुक करने के लिए अपील की। हरीश चन्द आजाद ने बताया कि लोग वंश चलाने के लिए पुत्र की इच्छा करते है तो क्या साईना नेहवाल, कल्पना चावला, इन्दिरा गांधी,गीता व बबीता फोगाट समेत कितनी ही चर्चित हस्तियां है इन के वंश खूब अच्छी तरह चल रहे है दूसरा लोग पुत्र की इच्छा इसलिए भी करते है क्योकि वे सोचते है कि पुत्रियां सुरक्षित नही है जबकि सत्य यह है कि पुत्रियो की ंसुरक्षा हमारी सोच पर निर्भर है अतः हमें अपनी बहन बेटियों का ंसुरक्षा कवच बनना होगा तभी हम भ्रूण हत्या जैसी सामाजिक बुराई को समाप्त कर पाएंगे।  
इस अवसर पर एन एस एस यूनिट द्वितीय अधिकारी रुप किशोर शर्मा ने स्वयंसेवको को सुन्दर कविताओं के माध्यम के बेटी बचाओ के बारे में जागरुक किया। प्राचार्य ने विशेष शिविर में बेटी बचाओ मंच, पंजाबी फैडरेशन फरीदाबाद के बेटी बचाओ अभियान जो कि पिछले पाॅच वर्षाे से जारी है तथा फरीदाबाद का बढ रहा लिंगानुपात इस अभियान की सफलता की भी पुष्टि कर रहा है। प्राचार्य डाक्टर सुरेश सिंह ने छात्रों की बेटी बचाओ अभियान में भागीदारी के लिए विशेष रुप से सराहना की तथा बेटी बचाओ मंच और दोनों राष्ट्रीय सेवा योजना इकाईयों को बेटी बचाओ अभियान चलाने के लिए व सामाजिक बुराई को समाप्त करने के लिए प्रयासरत रहने के लिए आभार व्यक्त किया। दूसरे सत्र में ‘‘बेटी बचाओं - बेटी पढाओ अभियान’’ पर पोस्टर बना कर जागरुकता मुहिम चलाई। एन.एस.एस. अधिकारियों रविन्द्र मनचन्दा तथा रूप किशोर शर्मा ने छात्रों को शपथ दिलवाई कि समाज से भ्रूण-हत्या के कलंक को उखाड़ फेंकेंगे तथा ‘‘बेटी नहीं है बोझ, सब को बताएंगे - कन्या भ्रूण हत्या समाज से मिटाएंगे’’। छात्रों और छात्राओं ने आकर्षक पोस्टर बना  और जागरुकता रैली निकाल कर बेटी बचाओं - बेटी पढाओ का सन्देश दिया।
विद्यालय प्राचार्य डाक्टर सुरेश सिंह, वरिष्ठ प्रवक्ता बी के गर्ग और रेणु शर्मा ने बेटी बचाओं - बेटी पढाओ रैली को हरी झण्डी दिखा रवाना किया। एन.एस.एस. प्रभारियों तथा स्वंय सेवको की रैली ने बेटी बचाओं व समाज की ज्वलंत समस्याओं की समाप्ति के लिए कार्य करने के लिए । उपप्रार्चाय बी के गर्ग, रविन्द्र मनचन्दा, रूप किशोर शर्मा, ब्रहम्देव यादव और विक्रम विवेक, डाक्टर कुलदीप सिंह, सोमबीर यादव, दान सिंह, संदीप गुप्ता, अखिलेश सिंह व लोकेश पी टी आई ने स्वयंसेवकों द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की।




loading...
SHARE THIS

0 comments: