Sunday, April 9, 2017

महावीर जंयती पर जैन समुदाय ने शहर में निकाली शोभा यात्रा


फरीदाबाद, 9 अप्रैल(abtaknews.com ) जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर जी की जयंती धूमधाम से मनाई गई। इस अवसर पर सैक्टर-16 स्थित श्री पाश्र्वनाथ दिगंबर जैन मंदिर से श्री दिगंबर जैन सभा द्वारा एक विशाल शोभा यात्रा का आयोजन किया गया। जिसमें भगवान महावीर को इंद्रो रथ में विराजमान किया गया, जिसे सैंकडों पुरूष और महिला श्रद्धालु रस्से के द्वारा उसे खींच रहे थे। शोभा यात्रा में हाथी, घोडे, स्कूल के ब"ो विभिन्न प्रकार की झांकियों ने प्रदर्शन किया। सैक्टर-16 स्थित जैन मंदिर से दर्जनों बैंड बाजों और हाथी घोड़ों के साथ एक शोभा यात्रा शहर के मु य-मु य बाजारों से होती हुई मंदिर परिसर पर समाप्त हुई। शोभा यात्रा का बाजार के लोगों ने जोरदार स्वागत किया। जगह-जगह पानी और ठंडे की व्यवस्था तो कहीं दूध और हलवे का वितरण किया। शोभायात्रा में अध्यक्ष पीके जैन, वी.के. जैन विशाल, रतिराम जैन, ऋषि जैन, अनिल जैन सहित अनेक लोगों ने भगवान महावीर का रथ खींचकर पुण्य कमाया।  इस अवसर पर मंदिर कार्यकारिणी के सदस्य वीके जैन ने कहा कि पंचशील सिद्धान्त के प्रर्वतक एवं जैन धर्म के चौबिसवें तीर्थकंर महावीर जैन अहिंसा के मूर्तिमान प्रतीक थे। जिस युग में हिंसा, पशुबलि, जाति-पाति के भेदभाव का बोलबाला था उसी युग में भगवान महावीर ने जन्म लिया। उन्होंने दुनिया को सत्य, अहिंसा जैसे खास उपदेशों के माध्यम से सही राह दिखाई। अपने अनेक प्रवचनों से मनुष्यों का सही मार्गदर्शन किया। महावीर स्वामी ने जैन धर्म में अपेक्षित सुधार करके इसका व्यापक स्तर पर प्रचार किया। शोभा यात्रा शहर के विभिन्न हिस्सों से होते हुए वापिस मंदिर परिसर में समाप्त हुई। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: