Thursday, April 6, 2017

हरियाणा के शीर्ष इंजीनियरिंग संस्थानों में वाईएमसीए विश्वविद्यालय


फरीदाबाद, 6 अप्रैल,2017(abtaknews.com)वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, फरीदाबाद ने इंजीनियरिंग संस्थानों के लिए राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ-2017) द्वारा जारी रैकिंग में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई है। वाईएमसीए विश्वविद्यालय राज्य का ऐसा दूसरा इंजीरियरिंग संस्थान है, जो देश के शीर्ष 150 इंजीनियरिंग संस्थानांे में शामिल हुआ है।
केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा जारी की गई (एनआईआरएफ-2017) रैकिंग में इस वर्ष 2,735 शिक्षण संस्थानों ने हिस्सा लिया था। वाईएमसीए विश्वविद्यालय को इंजीनियरिंग श्रेणी में 101 से 150 शिक्षण संस्थानों के रैंक-बैंड में रखा गया है जोकि इस बैंड में हरियाणा का एकमात्र शिक्षण संस्थान है। हालांकि जारी की गई रैंकिंग में पहले 100 शिक्षण संस्थानों को ही रैंकिंग क्रम के अनुसार दर्शाया गया है, जिसमें केन्द्र सरकार द्वारा संचालित एनआईटी, कुरूक्षेत्र ही शीर्ष 100 शिक्षण संस्थानों में जगह बना पाया है। हालांकि, हरियाणा से लगभग 18 शिक्षण संस्थानों ने (एनआईआरएफ-2017 रैकिंग में हिस्सा लिया था। वाईएमसीए विश्वविद्यालय को विगत तीन वर्षाें की अवधि के दौरान दौरान प्रगति रिपोर्ट के स्तरीय मापदंड के आधार रैंकिंग में जगह मिली है।
कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने सभी संकाय सदस्यों, अधिकारियों व कर्मचारियों को विश्वविद्यालय की एनआईआरएफ-2017 में उपस्थिति दर्ज होने पर बधाई दी है तथा कहा कि विश्वविद्यालय शिक्षा की गुणवत्ता व अनुसंधान को लेकर निरंतर कार्य कर रहा है, जिसके परिणामस्वरूप अगले वर्ष विश्वविद्यालय बेहतर परिणाम लाने में सफल होगा।
 डॉ. संजय कुमार शर्मा ने भी वाईएमसीए विश्वविद्यालय द्वारा एनआईआरएफ-2017 रैंकिंग हासिल करने पर प्रसन्नता जताई है तथा सभी को बधाई दी है।उल्लेखनीय है कि देश में विभिन्न विश्वविद्यालयों व उच्च शिक्षा के संस्थानों को रैकिंग देने के लिए राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क की शुरूआत की गई है, जिसमें अकादमिक, तकनीकी व अनुसंधान संस्थानों को विभिन्न मानदंडों के आधार पर परखा जाता है।

loading...
SHARE THIS

0 comments: