Wednesday, April 19, 2017

बिजली कर्मचारियों ने डिवीजन कार्यालय पर दिया धरना


फरीदाबाद 19 अप्रैल,2017(abtaknews.com ) बिजली विभाग में कार्यरत आल हरियाणा पावर कॉरपोरेशन वर्कर यूनियन ने आज पूरे प्रदेश के  डिवीजन स्तर कार्यालयों पर सातवें वेतनमान और समान काम समान वेतन की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन किया, फरीदाबाद में भी इस प्रदर्शन का असर सैक्टर 15 डिवीजन कार्यालय पर देखा गया जहां सैंकडों विधुत कर्मचारियों ने प्रदेश के नेता सुभाष लांबा के नेतृत्व में हरियाणा सरकार की नीतियों के खिलाफ जमकर मुर्दाबाद के नारे लगाये और आरोप लगाया कि सरकार तुगलकी फरमान जारी करना बंद करें और जनता के हित में फेंसले अन्यथा आने वाली 15 मई को चंडीगढ में कर्मचारी बडा आंदोलन करेंगे। एक बार फिर से वो ही पुरानी मांगों को लेकर विधुत विभाग के कर्मचारियों ने बिगुल बजा दिया है, इसकी शुरूआत कर्मचारियों ने प्रदेश के प्रत्येक डिवीजन स्तर कार्यालय पर आज धरना प्रदर्शन करके की है। फरीदाबाद के सैंक्टर 15 स्थित डिवीजन कार्यालय पर विधुत विभाग में कार्यरत सैंकडों कर्मचारियों ने कार्यालय के सामने जमकर विरोध प्रदर्शन किया। 
इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए आल हरियाणा पावर कॉरपोरेशन वर्कर यूनियन  के उप प्रधान सुभाष लांबा ने बताया कि प्रदेश व्यापी हडताल के तहत फरीदाबाद में भी हडताल की जा रही है, जिसमें सातवें वेतन आयोग की मांग प्राथमिकता से रखी गई है क्योंकि नवंबर 2016 तक सभी सरकारी विभागों को 7वें वेतन आयोग का लाभ दिया जा चुका है मगर विधुत कर्मचारियों को नहीं दिया गया है। वहीं कच्चें कर्मचारियों को पक्का किया जाये और समान काम समान वेतन नीति लागू की जाये। इतना ही नहीं बिजली विभाग में कर्मचारियों के लिये सबसे ज्यादा खतरा बना होता है इसलिये उन्हें कभी घायल होने का डर सताता रहता है इसलिये कर्मचारियों को जोखिम भत्ता के रूप में प्रति माह 5 हजार रूपये दिये जायें। साथ ही लांबा ने कहा कि अगर सरकार को पारदर्शिता लानी है तो निजीकरण ठेकेदारी प्रथा बंद करनी होगी। ऐसा नहीं किया जाता है तो आने वाली 15 मई को चंडीगढ में हजारों कर्मचारी विधुत विभाग के मुख्यालय का घेराब करेंगे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: