Sunday, April 23, 2017

सतलुज-यमुना लिंक (एसवाईएल) नहर निर्माण मामले में प्रधानमंत्री मोदी से मिले हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल



चण्डीगढ़, 22 अप्रैल,2017(abtaknews.com) हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर सतलुज-यमुना लिंक (एसवाईएल) नहर के निर्माण में केंद्र सरकार से मदद की मांग, हिसार में हवाई अड्डा बनवाने तथा उत्तर प्रदेश की तर्ज पर हरियाणा के किसानों की भलाई के लिए योजना बनाने की मांग रखी। नई दिल्ली में प्रधानमंत्री के आवास पर एक घंटे से अधिक चली बैठक में मुख्यमंत्री ने एसवाईएल से संबंधित सभी पहलुओं के बारे में जानकारी दी।
 श्री मनोहर लाल ने मुलाकात के उपरांत संवाददाताओं से बातचीत करते हुए बताया कि प्रधानमंत्री ने ध्यानपूर्वक एवं गंभीरता से हमारी बात सुनी है। एसवाईएल का मामला वर्ष 1976 से चला आ रहा है। सुप्रीम कोर्ट में हमारे पक्ष में पहले भी निर्णय आया है और इस मामले की एक्जीक्यूशन एप्लीकेशन पर 27 अप्रैल को सुनवाई होनी है। हमें पूरा विश्वास है कि अबकी बार भी हरियाणा के पक्ष में फैसला आएगा। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार इस नहर के निर्माण में सहयोग करें। पानी के बंटवारे के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि यह दो राज्यों की सहमति से हुआ है। एसवाईएल का निर्माण न होने से हरियाणा के अनेक हिस्सों में पानी की कमी हो रही है। ऐसे में इसके निर्माण से हरियाणा के लोगों को उनका हक मिलेगा।
 मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री के समक्ष हिसार में हवाई अड्डा विकसित करने की भी मांग रखी। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय से हिसार हवाई अड्डे पर सुविधाएं तो बढ़ी है लेकिन यह कार्य तेजी से हो इसके लिए इसे पूर्ण हवाई अड्डा बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हरियाणा के लोगों को दिल्ली और चण्डीगढ़ के हवाई अड्डों का लाभ तो मिलता रहा है लेकिन राज्य के भीतर हिसार व आस-पास के लोगों को भी यह सुविधा मिलनी चाहिए। हरियाणा के किसानों की स्थिति से भी मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को अवगत कराया। उन्होंने कहा कि राज्य में किसानों की स्थिति अच्छी नहीं है। उन्होंने प्रधानमंत्री से आग्रह किया कि केंद्र सरकार को किसानों की भलाई के लिए उत्तर प्रदेश की तर्ज पर एक अच्छी योजना बनानी चाहिए।

loading...
SHARE THIS

0 comments: