Thursday, April 6, 2017

अदला-बदली की भाजपा सरकार ने बदले की भावना से कराया मामला दर्ज : भूपेन्द्र हुड्डा

bhupender-hooda-former-chief-minister-lalit-nagar-mla-tigaon

फरीदाबाद 6 अप्रैल,2017(abtaknews.com) फरीदाबाद के निजी कार्यक्रम में पहुँचे पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने सीबीआई द्वारा नेशनल हैराल्ड मामले एफआईआर दर्ज करने को लेकर कहा कि बदले की भावना से उनपर मामला दर्ज किया गया है, उन्होंने जो भी कार्य किया है नियम के अनुसार ही किया है, भाजपा सरकार बदला बदली और फीता काटने वाली सरकार है। उन्होंने सरकार को मशवरा देते हुए कहा कि बदले की भावना से कार्य करना छोडकर अपने चुनावो किये गये वायदों को पूरा करने में ध्यान लगायें ज्यादा से ज्यादा जनहित में कार्य करें। दरअसल में पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंदर हुड्डा आज एक निजी कार्यक्रम में शिरकत करने फरीदाबाद पहुँचे थे उन्हें अपने ऊपर दर्ज सीबीआई केस की जानकारी भी नहीं थी जब मीडिया ने सवाल किया तब उन्हें मामले की जानकारी हुई और कहा कि  मौजूदा सरकार बदले की भावना से काम कर रही है ,यह सरकार बदला बदली की सरकार है।वही उन्होंने कहा कि वह सीबीआई केस के मामले में सभी नियमो का पालन करेंगे। गौरतलब है कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा के खिलाफ विजिलेंस की सिफारिश के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी थी। उस वक्त भूपेंद्र सिंह हुड्डा हरियाणा के ष्टरू के साथ ही हरियाणा विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष भी थे। दैनिक समाचार पत्र द नेशनल हेराल्ड की पब्लिशर एसोसिएट जर्नल्स लिमिटेड को 1982 में एक प्लॉट अलॉट किया गया था। इस प्लॉट की लीज अवधि 1996 में खत्म हो गई थी।उसके बाद बंसीलाल की अगुवाई वाली हरियाणा विकास पार्टी की सरकार राज्य में सत्ता में आ गई थी। 2005 में फिर से सत्ता में आने के बाद कांग्रेस ने एजेएएल को वह प्लॉट फिर से अलॉट कर दिया। हरियाणा विजिलेंस ब्यूरो ने मई 2016 में हुड्डा और चार अधिकारियों के खिलाफ धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार का मामला दर्ज किया था।ब्यूरो ने आरोप लगाया था कि हुड्डा के तत्कालीन चेयरमैन और अधिकारियों द्वारा उठाए गए कदमों से राज्य को भारी फाइनेंशियल नकुसान हुआ, क्योंकि प्लॉट को एजेएल को फिर से अलॉट करने की बजाय खुली बोली के माध्यम से बेचा जाना चाहिए था।

loading...
SHARE THIS

0 comments: