Saturday, April 22, 2017

पलवल में वरिष्ठ नागरिकों के लिए विशेष अभियान * आप अकेले नहीं हैं *



पलवल, 22  अप्रैल,2017(abtaknews.com ) जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण के तत्वावधान में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी एंव सचिव श्रीमती मोना सिंह के मार्गदर्शन में वरिष्ठ नागरिकों के कल्याण हेतु जागरूकता अभियान * आप अकेले नहीं हैं * के अंतर्गत छात्रों के लिए राजकीय कन्या  वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय कैम्प पलवल में विशेष कानूनी जागरूकता शिविर का आयोजन पैनल अधिवक्ता जगत सिंह रावत व हरमीत कुमारी द्वारा किया गया।  
उक्त शिविर का उद्देश्य छात्राओं को वरिष्ठ नागरिकों के अधिकारों के बारे में जागरूक करना है, जिससे छात्र वर्ग के माध्यम से बुजुर्गों को उनके अधिकारों के बारे में जागरूक करना तथा वरिष्ठ नागरिकों को उनके अधिकार दिलाने में सुलभता लाई जा सके। उक्त शिविर का संचालन विद्यालय की प्रधानाचार्य श्रीमती श्याम सुंदरी की अध्यक्षता में किया गया।                                    
शिविर में पैनल अधिवक्ता जगत सिंह रावत ने छात्राओं को माता-पिता एवं वरिष्ठ नागरिकों का भरण पोषण एवं  कल्याण, अधिनियम 2007 व वरिष्ठ नागरिकों के लिए कानूनी सेवाएं नालसा योजना 2016 के अंतर्गत वरिष्ठ नागरिकों के अधिकारों के बारें में बताया कि अधिनियम 2007 के अंतर्गत भारत का नागरिक व 60 वर्ष या उससे अधिक आयु पूरी करने वाले को वरिष्ठ नागरिक माना जाएगा। भरण पोषण के अंतर्गत भोजन, वस्त्र, आवास एवं चिकित्सा ईलाज आते है। कानूनी वारिसों व बालिग वारिसों से तथा जो वारिस वरिष्ठ नागरिक की सम्पति पर काबिज हो,  से पीडित वरिष्ठ नागरिक भरण पोषण प्राप्त कर सकता है। छात्राओं को बताया कि  वरिष्ठ नागरिक अपने मुकदमों में जल्दी सुनवाई, जान व माल की सुरक्षा का, बच्चों द्वारा परित्याग करने पर घर वापसी व सम्पत्ति वापस पाने का, भरण पोषण प्राप्त करने का , वृद्धा आश्रम, चिकित्सा बीमा लाभ व कर में छूट तथा  लाईब्रेरी, चिकित्सा सुविधा लाभ, बचत योजना, पैंशन लाभ, यात्रा में छूट, बस में सीट आरक्षित, वित्तीय लाभ, अंत्योदय योजना में खाद्य लाभ, अन्नपूर्णा स्कीम में लाभ, राशन वितरण केन्द्रों व फोन कनेक्शन में प्राथमिकता पाने के लिए हकदार है। हमारे समाज व राष्ट्र  की उन्नति  में वरिष्ठ नागरिकों के अहम योगदान के बारे में भी बताया। उन्हें  वरिष्ठ नागरिक हैल्पलाईन 1291 व प्राधिकरण की हैल्पलाईन 01275-298003 के बारे में भी विशेष जानकारी प्रदान की।                                         पैनल अधिवक्ता हरमीत कुमारी  ने उन्हें  बाल विवाह निषेध, बाल श्रम निषेध व घरेलू हिंसा व भरण पोषण सम्बन्धी महिलाओं के कानूनी अधिकारों व प्राधिकरण की सेवाओं के बारे में  जानकारी प्रदान की।
उक्त शिविर में प्रधानाचार्य श्रीमती श्याम सुंदरी व प्रवक्ता सुशील गौतम ने भी वरिष्ठ नागरिकों के योगदान व उनके अधिकारों के बारे में विचार प्रकट किए। शिविर में राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती राज रानी, सुशील गौतम, राजवीर सिंह, श्रीमती किरण बाका, श्रीमती साधना व श्रीमती सविता आदि शिक्षकगण भी मौजूद थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: