Thursday, April 6, 2017

स्कूल प्रबंधकों के फार्म 6 में फीस वसूली का विवरण नहीं है



फरीदाबाद 6 अप्रैल,2017(abtaknews.com) : हरियाणा अभिभावक एकता मंच ने  मुख्यमंत्री, शिक्षामंत्री व अतिरिक्त मुख्य सचिव शिक्षा विभाग को पत्र लिखकर प्राईवेट स्कूलों द्वारा पिछले पांच शिक्षा सत्रों में जमा कराए गए फार्म 6 में दर्शाई गई जानकारी की सत्यस्ता की जांच एक उच्च स्तरीय जांच कमेटी से कराने की मांग की है। मंच का कहना है कि स्कूल प्रबंधकों ने फार्म 6 में उन मद व फंडों को नहीं दर्शाया है जिसमें उन्होंने फीस वसूली है। इसके अलावा आगामी शिक्षा सत्र में भी सिर्फ लम-सम पस्तावित फीस बढ़ोतरी को दर्शाया है जबकि वह ऐसे मद व फंडों में फीस वसूल रहें है  जिनका जिक्र फार्म 6 में नहीं किया गया है। मंच के जिलाध्यक्ष एडवोकेट शिवकुमार जोशी ने बताया कि मंच की ओर से जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में आरटीआई लगाकर फरीदाबाद के निजी स्कूल रयान, द्रोणाचार्य, मानव रचना, हरमन मायनर, आइशर, जीवा, मार्डन, एपीजे, एमवीन, मार्डन डीपीएस, ग्राड कोलंबस, हरमन, डीएवी, एपीजे, सैन्ट जोनस अरावली इंटरनेशनल, एमवीन अरावली सहित 25 स्कूलों द्वारा पिछले पांच साल में जमा कराए गए फार्म 6 की सत्यापित कापी मांगी है इसके अलावा जिन स्कूलों ने पिछले 5 साल में फार्म 6 जमा नहीं कराया है उसकी भी सूची मांगी है। मंच के जिला सचिव डा. मनोज शर्मा ने इन स्कूलों के अभिभावकों से कहा कि पिछले 5 साल की अप्रैल माह में जमा कराई गई फीस की रसीद तुरंत मंच के कार्यालय में जमा करांए जिससे उसका मिलान स्कूलों द्वारा जमा कराए गए फार्म 6 में दर्शाई गई जानकारी से किया जा सके। मंच के प्रदेश महासचिव कैलाश शर्मा ने कहा है कि फार्म 6 में दर्शाई गई फीस की वैधता की जांच शिक्षा निदेशक हरियाणा को करनी होती है जो आज तक नहीं की गई है इसी को आधार मान कर मंच कानूनी लड़ाई लड़ेगा।  

loading...
SHARE THIS

0 comments: