Friday, April 28, 2017

केजीपी एक्सप्रेस 15 अगस्त तक हो जायेगा शुरू : नितिन गडकरी


फरीदाबाद, 28 अप्रैल,2017(abtaknews.com )केन्द्रीय सडक़ परिवहन, राजमार्ग एवं जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी आज यहां निर्माणाधीन ईस्टर्न पैरीफैरल एक्सप्रैस-वे के निर्माण से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी मीडिया डैलीगेट्स के साथ सांझा करने के उद्देश्य से ग्राम-मोहना के नजदीक पहुॅंचे। उन्होंने इस हाईवे पर जिले की सीमा के नजदीक पलवल जिला के अन्तर्गत आने वाले ग्राम-जल्हाका की सीमा में बनाए गए मीडिया एन्कलोजर में आयोजित प्रैस कान्फ्रैंस में पत्रकारों से रूबरू होकर जानकारी दी। इस मौके पर केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर, बागपत से सांसद डा. सत्यपाल सिंह, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के चेयरमैन युद्धवीर सिंह मलिक, सदस्य नीरज वर्मा, मुख्य महाप्रबन्धक डा. बी.एस. सिंगला, पुलिस आयुक्त डा. हनीफ कुरैशी, पलवल के उपायुक्त अशोक शर्मा व पुलिस अधीक्षक सुलोचना गजराज प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

श्री नितिन गडकरी ने मीडिया डैलीगेट्स को सम्बोधित करते हुए कहा कि मुम्बई-पूना एक्सप्रैस हाईवे के बाद यह हाईवे देश का सबसे बड़ा दूसरा हाईवे है। इसकी कुल लम्बाई 270 किलोमीटर की है। केन्द्र सरकार द्वारा इसके भूमि अधिग्रहण मुआवजा के रूप में 7700 करोड़ रूपए तथा निर्माण लागत के रूप में 4418 करोड़ रूपए की राशि व्यय की गई है। किसानों को नियमानुसार व सही तरीके से बांटी गई मुआवजा राशि के फलस्वरूप उनके सामने किसी प्रकार की शिकायत नहीं रहने दी गई है। उन्होंने कहा कि इस हाईवे के बन जाने से ट्रक-टैम्पो-ट्रेलर जैसे जो भारी वाहन बाहरी राज्यों से आकर दिल्ली में प्रवेश करके आगे की ओर जाते थे अब वे निर्बाध रूप से फर्राटा गति के साथ अपने गन्तव्य तक पहुंच सकेंगे। इसके फलस्वरूप इनकी वजह से दिल्ली में लगने वाले जाम तथा उत्पन्न होने वाले प्रदूषण की समस्या से भी निजात मिलेगी। इसका 60 प्रतिशत निर्माण कार्य पूरा हो चुका है और शेष 40 प्रतिशत को पूरा करने की दिशा में तेजी से क्रियान्वयन हो रहा है। इसके अन्तर्गत कुल 77 व्हीकल अण्डर पास (वीयूपी) तथा 152 पैदल यात्री अन्डर पास बनाए गए हैं। हाईवे को आवश्यकतानुसार रोड़ साईड सुविधाओं, हाईवे ट्रैफिक सिस्टम व ओवरस्पीड चैकिंग सिस्टम सहित तैयार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह एक्सप्रैस हाईवे देश के विकास के लिए एक बड़ा योगदान साबित होगा।

श्री गडकरी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में सरकार ने सन् 2014 की कुल 97 लाख किलोमीटर की रोड़ लैंथ को दो लाख किलोमीटर तक बढ़ाने का लक्ष्य तय किया था। इस दिशा में 26 हजार किलोमीटर प्रतिवर्ष की प्रगति हासिल की जा चुकी है और सरकार निरन्तर रूप से लक्ष्य की ओर अग्रसर है। इसके अन्तर्गत देश में 36 राजमार्ग-रिंग रोड़ भी बनाए जा रहे हैं। श्री गडकरी ने मीडिया डेलीगेट्स को हैलीकाप्टर की यात्रा कराकर इस हाईवे के निर्माण का हवाई सर्वेक्षण व अवलोकन भी कराया।इस अवसर पर जिला परिषद के चेयरमेन विनोद चैधरी, बल्लबगढ़ के उप पुलिस आयुक्त विष्णुदयाल शर्मा, बल्लबगढ़ के एसडीएम अमरदीप जैन, बडख़ल के एसडीएम रीगन कुमार, मोहना के नायब तहसीलदार कन्हैया लाल, ईस्टर्न पैरीफैरल एक्सप्रैस-वे के परियोजना निदेशक किशोर कन्याल व राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के परियोजना निदेशक मोहम्मद सफी, मोहना मार्कीट कमेटी के चेयरमैन नरेन्द्र पहलवान, ग्रामवासी अनंगपाल अत्री, बलराम गर्ग व हरकेश अत्री सहित कई अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: