Wednesday, December 7, 2016

बैंक ऑफ बडौदा सेक्टर-19 का मैनेजर बोला क्या कर लेगी सरकार ?


bank-of-badoda-sector-19-faridabad

फरीदाबाद 7 दिसम्बर(abtaknews.com ) देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने नोटबंदी के फैसला लेकर जहां काला धन व भ्रष्टाचार को बंद करने का बेहतरीन निर्णय लिया है वही उनके इस निर्णय को बैंक के कर्मचारी धत्ता बताकर अपने लोगों को लाभ पहुंचा रहे है और आम जनता को परेशान कर रहे है। यह कहना है  अखिल भारतीय पंचनद स्मारक समिति पंजाबी सभा के शहरी अध्यक्ष टोनी पहलवान का। टोनी पहलवान ने कहा कि वह सेक्टर 19 स्थित बैंक ऑफ बडौदा में पिछले लगभग तीन दिनो से चक्कर काट रहे है पंरतु बैंक में केवल उन लोगों की सुनवाई हो रही है जो कि बैंक मैनेजर से जान पहचान वाले है या फिर जो बैंक कर्मियों को रिश्वत के रूप में कुछ दे रहे है आम जनता तो रोज आ रही है और रोज जा रही है।

टोनी पहलवान ने कहा कि वह जब इस मामले को बैंक मैनेजर त्रिपाठी से मिलें तो उन्होंने उनसे बात भी नहीं करनी चाही और उनके साथ बदतमीजी की। उन्होंने कहा कि यह बैंक मैनेजर हम लोगों की सुविधाओ के लिए बिठाये गये है और यही जनता से ऐसा व्यवहार करेंगे तो जहां जनता तो इनसे खफा होगी ही जिसका सीधा सीधा असर सरकार पर भी पडेगा। उन्होंने कहा कि वह जल्द ही इस मामले को लेकर उच्च अधिकारियों से मिलकर बैंक मेनेजर की शिकायत करेंगे एवं आम जनता को उनका हक दिलवाकर रहेंगे।


loading...
SHARE THIS

1 comment:

  1. मान्यवर जन मन के मसीहा प्रधान मंत्री जी आप ने 8 नवम्बर रात्रि 8 बजे गोप अष्टमी को माँ भारती को आंतरिक बाह्य ढांचे को विनाश के कगार पर ले जाने वाली काली माया और काली माया को पोषित करने वालों की विमुद्रीकरण नोट बन्दी की तलवार एक रात में नींद उड़ा दी वही गरीबों दलितों दीनों के चेहरे पर खुशी ला दी। उन को लगने लगा जिस काली दुनिया के पोषकों से उनके हक अधिकार दबे कुचले हुए थे अब काली दुनिया के नष्ट होने पर पुनः मिलने लगेगा। मग़र धन वितरण की दुरस्त व्यवस्था ना होने के चलते बड़ी बड़ी कतारों में लगने पर भी जरूरत के मुताबिक पैसा हासिल नही हो पा रहा। जिस के चलते खान पान बीमारी आदि जरूरत की चीजें भी नही मिल पा रही। 1 एटीएम में एक ही चालक व्यक्ति 10,15 कार्ड लाकर अन्य का हक मार लेता है बाकी साधारण हाथ मलते व्यवस्था को कोसते चले जाते। 2 बैंक में धन की वितरण व्यस्था जो रकम बैंक को प्राप्त होती कुछ कर्म चारी हेरा फेरी कर अपनों को लाभ देते कोई इसकी जवाब देही नही। फिर लोग लाइन में खड़े सरकार को कोसते।क्यों उनकी जरूरत पूरी नही होती।3 नाको और नगर सीमा के अंदर व्यापक नियंत्रण नही बन पाया मिली भगत से असमाजिक तत्व अपना स्वार्थ हल कर लेते हैं।4 बैंक की लंबी लाइन का एक बड़ा कारण यह भी है जो निरन्तर अपने धन को जमा करवा रहे वो ढाडी के मजदूर जो 2 घण्टे किसी और बैंक एटीएम की कतार में कभी किसी और बैंक एटीएम बैंक की कतार जिस से ऐसा लगता भीड़ वही की वही आम जन फिर व्यस्था को कोसने लगता। 5 धन जहां से आता और जहाँ एटीएम बैंक आदि में पहुंचता उस सब पर मोनिटरिंग होनी चाहिए।मान्यवर आज मैंने स्वयं एटीएम में जाकर देखा की दबंग जो 10,15 कार्ड लेकर धन निकाल रहा जिस से लाइन जस की तस पुलिस की मौजूदगी भी बेकार तब मैंने पहले बाहर निकाल कर एक लेडी और दूसरी जेन्ट्स की कतार लगा कर दो कार्डस तक प्रयोग कर मात्र दो घण्टे में ही सैकड़ो को आसानी से धन निकलवा कर खुश कर दिया तब आपके चाहने वालो ने कहा यही व्यवस्था हर बैंक और एटीएम में हो जाये तो हम 50 दिन क्या 100 दिन भी सहन कर लेंगे मगर मोदी जी की धन वितरण की व्यवस्था सही हो। आप यकीन मानो 4 पुलिस वालों के पैसा मैने निकल वाये।इसके लिए देश व्यापी संघठन की जरूरत।मान्यवर इस समय नेताओ और पार्टी के पदाधिकारी सभा,रैलियों, समारोह,उदघाटनो का आकर्षण ना बन कर इस व्यवस्था में जमीनी स्तर पर सहयोग दे।भाजपा के 9 करोड़ में से मात्र 10�E0��दस्य , नेतागण, सरकार के चेयर मैन, मण्डल,नगर, जिला,राज्य,राष्ट्रिय स्तर के कार्य कारिणी अधिकारी सदस्य, आरएसएस, विहिप, बजरंग दल , गाव के पंच, सरपंच, पुलिस, होम गार्ड, nss, ncc, ngo सरकार से सहायता प्राप्त, शिक्षा विभाग, निगम कर्म चारियों के सहयोग से हर बैंक एटीएम देश के कोने कोने में हैं वहां polic के साथ हर इकाई से एक एक कार्यकर्ता नियुक्त हो जो लोकल हो तभी व्यवस्था दुरुस्त हो पायेगी।इसके लिए अनुशासनात्मक,दण्डात्मक, सख्ती से निर्देश दिए जाये अकेले एक दो polic से कुछ नही।25 दिन है इस महा यज्ञ के सफल होने में पर अब जनता के साथ आपकी पार्टी उनका भी साहस धैर्य जवाब देने लगा है।आपका सेवकडॉ बाँके बिहारी9718039173. http://nm-4.com/vw0y

    ReplyDelete