Sunday, October 16, 2016

मंदिर से भगवान बाल्मीकि की शोभा यात्रा निकाली गई


फरीदाबाद, 15 अक्टूबर(abtaknews.com) भगवान बाल्मीकि प्रकट दिवस की पूर्व संध्या पर एन.एच.पांच स्थित प्राचीन बाल्मीकि मंदिर से भगवान बाल्मीकि की शोभा यात्रा निकाली गई।  यात्रा का शुभारंभ नगर पालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री ने किया तथा ज्योति प्रचण्ड वरिष्ठ समाजसेवी दलीप बहोत ने 

श्री शास्त्री ने इस अवसर पर सभी शहरवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए कहा कि भगवान बाल्मीकि जी ने महाकाव्य रामायण की रचना करके समस्त मानव जाति को अध्यात्मिक ज्ञान का मार्ग प्रशस्त किया है। भगवान बाल्मीकि द्वारा रचित महाकाव्य रामायण में गृहस्थ, राजनीति व सन्यास के नियमों का उल्लेख किया है। जो भी व्यक्ति रामायण में वर्णित ज्ञान को अपने जीवन में सम्मालित करेगा। वह सभी प्रकार के दुखों से मुक्त रहेगा। श्री शास्त्री ने इस अवसर पर भ्रूण हत्या, रूढ़ी वादी विचार धारा, अंधविश्वास, नशाखोरी आदि सामाजिक बुराईयों का त्याग करने की अपील करते हुए कहा कि समाज के युवाओं को शिक्षा की ओर ध्यान देना चाहिए साथ ही साथ अन्य क्षेत्रों में भी बाल्मीकि समाज के युवा आगे आए।

यह शोभा यात्रा एन.एच.पांच, जनता बैंड, नीलम पैट्रोल पम्प, एन.एच. एक मार्किट, एन.एच.दो मार्किट, एन.एच. तीन मार्किट व एन.एच.चार बाजार से होते हुए प्राचीन बाल्मीकि मंदिर पहुंचकर समाप्त हुई। रास्ते में शोभा यात्रा में चल रहे यात्रियों को समाजेसवी व बाल्मीकि समाज के लोगों द्वारा भंडारे भी लगाए गए थे। इस मौके पर गुरचरण खाण्डिया, समाजसेवी सुनील शास्त्री, राजपाल पहलवान, अनिल चिन्डालिया, विनोद कुमार, कुमरपाल आदिवाशी, जिन्दर चिन्डालिया, राकेश चिन्डालिया, विजय चिन्डालिया, ब्रजवती, संजय कीर, महेश आदवंशी, शिव कुमार, बलवीर कागड़ा आदि मौजूद थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: