Monday, October 10, 2016

दीवाली पर चाईनीज सामानों का बहिष्कार कर चीन को दें मुंहतोड़ जवाब : नीरज भाटिया


फरीदाबाद(abtaknews.com ) पाकिस्तान के समर्थन में चीन द्वारा ब्रह्मपुत्र का पानी रोके जाने के मामले को लेकर अब सामाजिक, धार्मिक व व्यापारिक संगठनों ने लामबंद होकर चीन के खिलाफ मोर्चा खोलना शुरू कर दिया है। चीन भारत में सबसे अधिक व्यापार करता है और दीवाली के दौरान चीन करोड़ों-अरबों रूपए की कमाई भारत के बाजारों से करता है। चीन के इस रूख से नाराज व्यापारिक, सामाजिक व धार्मिक संगठनों ने मिलकर इस बार दीवाली पर चाईनीज सामानों का बहिष्कार करने का निर्णय लिया है। इसी कडी में जवाहर कालोनी मार्किट एसो. गुरूद्वारा रोड की एक बैठक प्रधान नीरज भाटिया की अध्यक्षता में जवाहर कालोनी स्थित कार्यालय पर सम्पन्न हुई। बैठक में उपस्थित व्यापारी संगठनों के पदाधिकारियों, सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने एक स्वर में शपथ लेकर चाईनीज सामान न बेचने व खरीदने का संकल्प लिया। बैठक को संबोधित करते हुए प्रधान नीरज भाटिया ने कहा कि आतंकवाद का पर्याय बने पाकिस्तान के समर्थन में उतरकर चीन ने साबित कर दिया कि वह आतंकवाद के खिलाफ नहीं है और ब्रह्मपुत्र नदी का पानी रोककर उसने औंछी मानसिकता का परिचय दिया है।  उन्होंने कहा कि चीन सबसे ज्यादा व्यापार भारत में करता है, ऐसे में चीन के उत्पादों का बहिष्कार करके हम उसे सबसे बड़ी चोट पहुंचा सकते है क्योंकि चीन की आर्थिक स्थिति भारतीय बाजार में निर्भर करती है। श्री भाटिया ने बैठक में उपस्थितजनों से आह़्वान करते हुए कहा कि वह इस बार दीवाली पर चीन के सभी उत्पादों का बहिष्कार करके चीन को मुुंहतोड़ जवाब देने का काम करें। बैठक के बाद व्यापारियों ने लोगों को जागरूक करने के लिए एक रैली भी निकाली, जिसमें लोगों ने पोस्टर व पंफेलट के माध्यम से लोगों को जागरूक किया। इस अवसर पर पर्वतीया कालोनी मार्किट एसो. के प्रधान राममेहर, सेक्टर-23 मार्किट एसो. के प्रधान संजीव कुमार, प्रेस कालोनी मार्किट एसो. के प्रधान अशोक बंसल, जनता कालोनी मार्किट एसो. के प्रधान नवीन चावला, धार्मिक संगठन के प्रधान जोगा सिंह, बन्नू बिरादरी एसो. के प्रधान आलोकनाथ, सनातन धर्म मंदिर एसो. के प्रधान सतपाल मुंजाल, पंजाबी समाज के प्रधान त्रिलोक गुलयानी, नवीन तनेजा, रवि मेहर, राजीव गोयल, सुभाष गुलाटी, हरजिन्द्र मेहदीरत्ता, राजू सिंह, संजय कुमार सहित अनेकों व्यापारिक संगठनों के पदाधिकारीगण उपस्थित थे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: