Sunday, October 16, 2016

देश सेवा व समाजसेवा से बडी है मानवता की सेवा ;- बाबा रामकेवल



फरीदाबाद 16 अक्तूबर(abtaknews.com ) प्रखर समाजसेवी बाबा रामकेवल ने कहा कि मानवता की सेवा सर्वोपरि है। इसलिए नर सेवा को नारायाण सेवा कहा गया है। सभी आपस में मिलजुलकर रहें। जाति-धर्म के भेदभाव समाप्त होने चाहिएं। सभी जीवआत्माएं समान हैं। सभी का मान-सम्मान हो, आपस में भाई चारा और तीज त्योहारों पर एक दूसरे के यहां आना जाना होना चाहिए। भगवान, साधु-संत और महापुरूष किसी जाति के नही बल्कि पूरे समाज के होते है। बाबा रामकेवल ने उपरोक्त विचार भगवान वालमीकि जयंति कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता व्यक्त किए।

गांव भनकपुर के सरकारी स्कूल में सामाजिक समरता मंच करनेरा खंड बल्लभगढ़ द्वारा वालमीकि जयंति का आयोजन किया गया। आयोजक भनकपुर गांव के सरपंच सचिन मंडौतिया की अध्यक्षता में आयोजित इस कार्यक्रम में गांव के व्योवृद्ध ग्रामीण से शुरूआत कराई गई। सर्वप्रथम भगवान वालमीकि के चित्र में सभी ने पुष्प अर्पित की और उनके द्वारा बताई गई बातों को आत्मसात करने, भेदभाव मिटाने और आपसी भाईचारा बनाए रखने का संकल्प लिया गया।

इस अवसर पर बाबा रामकेवल, समाजसेवी डॉक्टर बाबूलाल रवि, करनैरा सरपंच किशन, भनकपुर सरपंच सचिन मंडौतिया, समयपुर के पूर्व सरपंच , कबूलपुर, सिकरौना के पूर्व सरपंच विजय सहित काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे। सामूहिक भोजन के दौरान सभी ने  प्रसाद ग्रहण किया।



loading...
SHARE THIS

0 comments: