Wednesday, October 5, 2016

पलवल के नेत्रदानी परिवार हुआ सम्मानित


फरीदाबाद(abtaknews.com )हर व्यक्ति यह चाहता है कि ऐसा कुछ करे कि मृत्यु के बाद भी समाज उसे याद करे या फिर वह अमर हो जाये,लेकिन अमर होने के लिए कुछ असाधारण काम करने होते है। कौन कौन से है ये असाधारण काम???  ये है "नेत्रदान",  "रक्तदान", "अंगदान"। ये असाधारण कार्य करके मृत्यु के बाद भी जीवित रहने का यह मौका हर व्यक्ति को मिलता है परन्तु कितने लोग इन असाधारण कार्यों को अंजाम दे पाते है बहुत कम लगभग न के बराबर। ऐसा ही असाधारण कार्य करके पलवल के श्यामनगर की वयोवृद्ध समाज सेवी और आर्य समाज पलवल शहर की पुर्व महिला प्रधान श्रीमती चन्द्रवती  आर्य मरणोपरांत नेत्रदान करके अमर हो गयी ।पलवल डोनर्स क्लब " ज्योतिपुँज " के मुख्य संयोजक आर्यवीर लायन विकास मित्तल ने बताया कि श्री मती चन्द्रवती आर्य के स्वर्गवास के बाद उनके परिवार ने उनकी  इच्छानुसार पलवल डोनर्स क्लब " ज्योतिपुंज"की मदद सें दिल्ली स्थित वेणु नेत्र संस्थान को  नेत्रदान करवा दिये थे।

पलवल के मुस्कान गार्डन में आयोजित प्रेरणा सभा में सैकडो लोगों की उपस्थिति में पलवल डोनर्स क्लब " ज्योतिपुँज " की तरफ से नेत्रदाता परिवार को सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया । आर्य समाज पलवल शहर के प्रधान चन्द्रशेखर मंगला, जगबीर सिंह गिरधर, बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुकेश सिंघला, अविनाश शर्मा, वैश्य नेता ओम प्रकाश गुप्ता ने परिवार के लोगों को सम्मान पत्र प्रदान किया ।इस नेत्रदान में पलवल डोनर्स क्लब की सहसंयोजक वीरा अल्पना मित्तल,राजेन्द्र प्रसाद गर्ग, सुरेन्द्र गर्ग, राजकुमार आर्य, सुन्दर आदि का विषेश सहयोग रहा।इस अवसर पर  परिवार के सदस्यों को न केवल सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया बल्कि वहा उपस्थित शहर और बाहर से आये हुए सैकडो गणमान्य व्यक्तियो को नेत्रदान और रक्तदान के लिए जागरूक किया और नेत्रदान की इस मुहिम से जुडने के लिए आहवान किया। प्रेरणा सभा में परिवार के सदस्यों के अलावा शहर  के अनेक गणमान्य लोग पुर्व मन्त्री सुभाष कत्याल, मोतीलाल गुप्ता,ओम प्रकाश शास्त्री, देशराज शास्त्री,  संन्दीप गोयल, ललित मित्तल, निकुंज गर्ग आदि  उपस्थित थे ।

loading...
SHARE THIS

0 comments: