Tuesday, October 18, 2016

पल्ला ,सेहतपुर में जमीन हथियाने का अवैध गोरखधंधा जारी है





फरीदाबाद 18 अक्टूबर 2016(abtaknews.com) सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार पल्ला में जमीन हथियाने का अवैध गोरख धंधा जोरों पर चल रहा है ।प्राप्त जानकारी के अनुसार पल्ला पुलिस चौकी के बगल में निर्माणाधीन मार्केट तथा तरुण गार्डन के नाम से मशहूर गार्डन अवैध रूप से हथियाए जाने का एक ताजा उदाहरण है ।वैसे तो जमीन हथियाने का गोरखधंधा क्षेत्र में कई दशकों से चल रहा है जिसमें कई बार ऐसे भी आरोप लगाए गए हैं कि इसमें प्रशासन की मिलीभगत होती है प्रशासन की कितनी मिलीभगत होती है या फिर वही होती यह एक जांच का विषय है लेकिन इतना कहना बहुत आसान है कि अगर मिलीभगत नहीं होती तो जमीनों पर अवैध रुप से कब्जे क्यों हो जाते हैं ?अवैध रुप से कब्जा करने का इन भू-माफियाओं ने आसान तरीका निकाल रखा है पहले यह सरकारी जमीनों या फिर गांव समाज की जमीन को पता करते हैं उसके बाद अपने रसूख के बल पर उसके ऊपर कब्जा करके बाउंड्री बना देते हैं या फिर कोई टूटा फूटा कमरा बना देते हैं और उसके बाद जैसे ही प्रशासन या कोई सामाजिक कार्यकर्ता या कोई आरटीआई एक्टिविस्ट मुद्दे को उछालने की कोशिश करते हैं तो तुरंत ही भू माफिया कोर्ट में एक एप्लीकेशन लगाकर  स्टे आर्डर करवा देते हैं और उस जमीन पर मुकदमा कर देते हैं वह मुकदमा जब तक चलता है या उसका फैसला आता है तब तक ये भूमाफिया उस जमीन के ऊपर कब्जा करके उस जमीन से काफी लाभ कमा चुके होते हैं।

कुछ भूमाफिया तो इन जमीनों को किराए पर दे देते हैं कुछ भूमाफिया इन जमीनों के सामने ठेले की दुकान, जनरल स्टोर की दुकान ,शराब के ठेके ,शराब का अहाता खुलवा देते हैं और इन से मोटी रकम किराए के रूप में वसूलते हैं।इस खबर का पता चलने के बाद कुछ पत्रकारों ने पुलिस चौकी के बगल में बन रहे इस इमारत के पास गए और उन्होंने देखा कि इस इमारत के पीछे एक गेट बनाया गया है जो सरकारी जमीन के बाउंड्री को तोड़ कर पुलिस चौकी के बगल से निकलने वाले रास्ते पर मिलाया गया है वैसे तो सरकारी बाउंड्री या फिर सरकारी जमीन पर कब्जा करने का अधिकार किसी के पास नहीं है लेकिन जैसा कि घटनास्थल पर है अगर उसमें जरा सी भी सच्चाई है तो निश्चित रुप से यह काम गलत तरीके से हो रहा है और इस पर प्रशासन को सख्त  कदम उठाना चाहिए।

हाल ही में इस तरह की 2 शिकायतें माननीय मुख्यमंत्री के शिकायत विंडो पर भी की जा चुकी हैं जिसमें पहली शिकायत 18 जुलाई 2016 को नफे सिंह गांव एतमादपुर ने किया था जिसमें यह स्पष्ट रुप से लिखा गया था कि कमल सिंह तोमर पुत्र जगराम निवासी गांव पल्ला नंबर 1 द्वारा दबंगई से अधिकारियों से सांठगांठ करके मेन पल्ला चौक पर नगर निगम की 1000 वर्ग गज जमीन पर अवैध कब्जे करके उस पर अवैध तरीके से भवन निर्माण किया जा रहा है जबकि दूसरी शिकायत प्रमोद पवार ने 14 अक्टूबर 2016 को सीएम विंडो पर किया था जिसमें स्पष्ट रुप से लिखा गया है कि कमल सिंह तवर पुत्र जगराम निवासी गांव पला नंबर 1 द्वारा दबंगई से अधिकारियों से सांठगांठ कर के मेन पल्ला चौक पर नगर निगम की जमीन पर कब्जा करके अवैध तरीके से भवन का निर्माण किया जा रहा है।
अगर आप इन दोनों शिकायतों पर गौर करेंगे तो यह दोनों शिकायतें हैं एक ही व्यक्ति के लिये की गई है और एक ही मकसद से की गई है ।हालांकि इन दोनों शिकायतों को अगर cm विंडो पर फालो किया जाए तो दोनों शिकायतें प्रोसेस में है और पूरी जांच के बाद  इस शिकायत पर फैसला जल्दी  आने की उम्मीद है जिससे यह पता चल सकेगा की शिकायत किए गए विषय पर कितनी सच्चाई है।

loading...
SHARE THIS

0 comments: