Monday, October 17, 2016

हरियाणा में अब पंचायतें अगूंठा लगाने वाली नहीं हैं, अधिकारी सचेत रहें :- ओ पी धनकड़



चण्डीगढ़,17 अक्टूबर(abtaknews.com )कृषि, विकास एवं पंचायत मंत्री श्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा है कि बेसहारा पशुओं की समस्या से निजात दिलाने के लिए हिसार, पानीपत व भिवानी में गौ अभ्यारण्यों की स्थापना के लिए भूमि चिह्नित कर ली गई है तथा हिसार में इसकी शुरूआत भी कर दी गई है। यह जानकारी कृषि मंत्री ने भिवानी जिले के गांव बामला में लोगों की समस्याएं सुनने के पश्चात लोगों से बातचीत करते हुए दी। उन्होंने कहा कि सरकार हर खेत, हर व्यक्ति व हर पशु को बीमित करके प्रदेश के सभी गांवों को जोखिम फ्री बनाने की ओर बढ़ रही है।  सरकार की सोच है कि प्रदेश का हर व्यक्ति खुशहाल व समृद्ध बने और वह पूर्णरूप से स्वावलम्बी बनकर आत्मसम्मान के साथ जीएं। उन्होंने कहा कि वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर गरीब परिवारों के पीले कार्ड बनाए जाएगें। यदि फिर भी कोई गरीब लोग रह जाएगे तो भी उनके पीले कार्ड बनाने का कार्य किया जाएगा। 

उन्होंने लोगों से अपील की कि वे प्रधानमंत्री जीवन सुरक्षा बीमा योजना, जीवन ज्योति   तथा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनाओं इत्यादि को अपनाएं और स्वयं को जोखिम फ्री करवाएं। उन्होंने कहा कि स्वर्ण जयंती वर्ष के दौरान प्रत्येक गांव की गौरवमय व विकासपरक गाथा का वर्णन करने के लिए गांव के विकास गौरव पट्ट लगाए जाएंगे। इन पट्टों पर गांव के इतिहास, स्वतंत्रता सेनानियों, शहीदों, खिलाडिय़ों व अन्य विभूतियों के  नाम अंकित किए जाएंगे। 

विकास एवं पंचायत मंत्री ने कहा कि हरियाणा के इतिहास में पहली बार शिक्षित पंचायतें चुन कर आई हैं तथा चुने हुए जन-प्रतिनिधि गांवों का विकास करवाने में अहम रूचि ले रहे हैं।  अब पंचायतें अगूंठा लगाने वाली नहीं हैं बल्कि अधिकारियों क समक्ष ऊंगली उठाकर हिसाब मांगने वाली पंचायते हैं तथा हरियाणा सरकार के इस निर्णय की पूरे देश में चर्चा हो रही है।
उन्होंने कहा कि गौरक्षा का सख्त कानून बनाकर गौसेवा आयोग का गठन किया है। इस गौसेवा कानून के तहत यदि कोई भी पंचायती भूमि पर गौशाला खोलना चाहते है तो सरकार उन्हे शैड बनाने, फसल उगाने, टयूबवैल लगवाने, ट्रैक्टर आदि खरीदने के लिए ढ़ाचा खड़ा करने की धन राशि मुहैया करवाएगी। उन्होंने गांव बामला में गौशाला बनाने की स्वीकृति प्रदान की। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: