Thursday, October 13, 2016

लोहिया के विचारों से प्रभावित होकर सपा का गठन किया: मुलायम



लखनऊ (संदीप पाल); समाजवादी चिन्तक राममनोहर लोहिया की पुण्यतिथि के उपलक्ष्य में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव, मुख्यमंत्री अखिलेश यादव एवं प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने लोहिया न्यास व लोहिया पार्क स्थित लोहिया प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किया। इस अवसर पर मुलायम सिंह यादव ने कहा कि लोहिया ने भारतीय राजनीतिक को नई दिशा दी। उनकी की विचारधारा आज और भी अधिक प्रांसगिक है। लोहिया ने आजादी की लड़ाई के दौरान असहनीय यातनायें सही। बयालिस की क्रान्ति के दौरान भूमिगत रहते हुए लोहिया स्वतंत्रता आन्दोलन को धार देते रहे और गोवा की आजादी का सिंहनाद भी किया इसीलिए उन्हें गोवा मुक्ति संग्राम का नायक भी कहा जाता है। उन्होंने ‘सप्त क्रान्ति’, ‘विकेन्द्रीयकरण’, ‘चैखम्भाराज’ जैसी अवधारणायें दी। उन्होंने पूरी दुनिया को बिना हथियार उठाये अन्याय का प्रतिकार करना सिखाया। श्री यादव ने युवा समाजवादियों से लोहिया एवं समाजवादी साहित्य के अध्ययन करने तथा सैद्धान्तिक कार्यक्रमों से जुड़ने की सीख दी। नेताजी ने कहा कि लोहिया के विचारों से अनुप्रेरित होकर ही उन्होंने समाजवादी पार्टी का गठन किया। आर्थिक विषमता को समाजवाद से ही दूर किया जा सकता है। लोहिया के ऐतिहासिक वक्तव्य को उद्धरित करते हुए उन्होंने कहा कि अमीर और गरीब के बीच एक अनुपात दस का अंतर होना चाहिए। इसके अलावा मुलायम सिंह यादव ने कहा कि आज नेता क्षेत्र में जनता जानती नहीं, टिकट मांगते हैं। 

वहीं कुछ वारिष्ठ पत्रकारों एवं जानकारों की माने तो समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव आज लोहिया की जिन बातों से समाजवादियों को सीख लेने की नसीहतें दे रहे हैं। उन बातों पर सपा मुखिया ने कभी खुद अम्ल नहीं किया। जानकार तो यहां तक कहतें हैं कि सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव कभी अपने जीवन में लोहिया से नहीं मिले और यह बात एक बार सपा मुखिया भी अपने मुख से कह चुके हैं। पत्रकारों एवं जानकारों के मुताबिक सपा शासन में आज जनता तस्त्र है गुण्डों और बदमाशों का बोलबाला है। इतना ही नहीं आज सपा में दबंगों की इतनी हनक है कि उनके आगे सपा त्रिमूर्ति मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव और शिवपाल सिंह यादव बेबश है। मुलायम सिंह के नेता क्षेत्र में जानती नहीं और टिकट मांगने वाली बात पर उक्त लोगों का कहना है कि मुलायम ने ऐसा बहुत से लोग है कुछ उनके घर में कुछ बाहर जो कभी सपा में किसी पद पर नहीं रहे उन्हे बडे़ बडे़ पदों पर न केवल बैठाया गया, चुनाव तक लड़ाया गया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: