Tuesday, October 4, 2016

विधायक आर्दश गांव में अपनी सामूहिक जिम्मेदारी समझें ग्रामीण ;-कविता जैन



चंडीगढ़, 4 अक्तूबर(abtaknews.com ) सांसद आदर्श गांव की तर्ज पर हरियाणा सरकार द्वारा आरंभ किये गये विधायक आर्दश गांव को सरकारी प्रयासों के साथ साथ ग्रामीणों की सामूहिक जिम्मेदारी से हम सही मायने में गांव को आर्दश बना सकते हैं यह उदगार महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन ने आज विधायक आर्दश गांव के तहत गोद लिए गांव मोहाना सोनीपत में प्रशासनिक अधिकारियों एवं ग्रामीणों की बुलाई गई पहली बैठक को समबोधित करते हुए व्यक्त किये।
श्रीमती जैन ने कहा कि जनप्रतिनिधि सरकार की ताकत होते हैंऔर अधिकारियों से काम करवाना सरकार की जिम्मेवारी है। आमजन भी अपने आस-पास हो रहे विकास कार्यों के प्रति गंभीर हो तो विकास की परियोजनाएं जल्द ही पूरी की जा सकतीं हैं। उन्होंने ग्रामीणों से भी का आह्वान करते हुए कहा कि योजना बनाकर मोहाना गांव को आदर्श बनाया जाएगा, उन योजनाओं को पाबंद समय में पूरा कराने तथा पारदर्शिता परखने की जिम्मेदारी ग्रामीण निभाएं।
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार प्रत्येक गांव में सबका साथ सबका विकास तर्ज पर विकास करने के लिए संकल्पबद्ध है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार भाई-भतीजावाद को खत्म कर अंत्योदय की भावना से काम कर रही है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र में और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में प्रदेश सरकार ने वर्षों के इतिहास को बदल दिया है। सरकार प्रदेश के सभी क्षेत्रों व वर्गों में बगैर भेदभाव के काम कर रही है और मुख्यमंत्री 
श्रीमती जैन ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसी उम्मीद के साथ देश में स्वच्छ भारत मिशन की शुरूआत की है और हमें जनभागीदारी के साथ इस अभियान को अपने गांव और गली स्तर तक ले कर जाना है। श्रीमती जैन ने कहा कि बेटियों विकट परिस्थितियों में बेटों से ज्यादा लडती हैं। उन्होंने ग्रामीणों से आह्वान किया कि सुरक्षा के नाम पर अब बेटियों को रोकना बंद होना चाहिए। बेटियों को उनकी कार्यकुशलता के आधार पर आगे बढने का अवसर मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि अभिभावकों को कोई गंभीर प्रयास करना है तो वह बेटों को संस्कारी बनाने का है, ताकि बेटियां समाज में सुरक्षित महसूस कर सकें। उन्होंने इसके लिए मानसिकता बदलने पर भी बल देने की जरूरत महसूस की। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: