Tuesday, October 11, 2016

सरस्वती नदी पुनरुद्धार के लिए ‘अपशिष्ट जल-उपचार संयंत्र’ का मॉडल अपनाएंगे ;- मनोहर लाल खट्टर



चण्डीगढ,11 अक्तूबर(abtaknews.com )हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा सरकार सरस्वती नदी के पुनरुद्धार के लिए पंजाब के जालंधर जिला के गांव सीचेवाल के ‘अपशिष्ट जल-उपचार संयंत्र’ का मॉडल अपनाएगी। मुख्यमंत्री आज गांव सीचेवाल और सुल्तानपुर लोधी में अपशिष्ट जल उपचार की परियोजनाओं का दौरा करने के बाद मीडिया के सवालों के जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि स्वच्छता अभियान पूरे देश में चलाया जा रहा है और इसीलिए वे गांव सीचेवाल और सुल्तानपुर लोधी में अपशिष्ट जल उपचार की परियोजनाओं को देखने के लिए स्वयं आए हैं। उन्होंने इस गांव की इन परियोजनाओं की सराहना करते हुए कहा कि गांव सीचेवाल का मॉडल दूसरे गांवों के लिए एक आदर्श मॉडल है और इसका प्रचार किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस परियोजना का कोई खर्चा नहीं है इसलिए ऐसी परियोजनाएं हमारे गांवों को स्वच्छ रखने और साफ रखने में सहायता करेंगी। 
नमी कटौती किसानों से वसूले जाने के सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि मिलरों एवं आढ़तियों द्वारा नमी के मामले में ज्यादा कटौती किए जाने की शिकायतें मिल रही थी जिसके कारण धान खरीद के मामले में यह फार्मूला अपनाना पड़ा। इस फार्मूले से उन शिकायतों पर रोक लग गई है, अब किसान और आढ़ती दोनों ही सरकार के इस फैसले से खुश हैं। उन्होंने कहा जिन किसानों की फसलों में 17 प्रतिशत तक नमी की मात्रा है उनसे कोई अतिरिक्त राशि नहीं वसूली जा रही है।उन्होंने पराली जलाने के सवाल पर कहा कि पराली जलाने से पर्यावरण में प्रदूषण फैलता है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार जल्द ही एक प्रोजेक्ट लगाने जा रही है जिसमें पराली से ऊर्जा उत्पन्न की जाएगी और इस संबंध में भारतीय तेल निगम से एक समझौते पर हस्ताक्षर भी हुए हैं।
 इससे पहले, मुख्यमंत्री ने गुरुद्वारा बेर साहिब का दौरा किया और पवित्र बेन नदी में संत बलबीर सिंह सीचेवाल के साथ मोटरबोट की सवारी का आनंद लिया। इसके अलावा, उन्होंने डेरा सीचेवाल में नर्सरी का एक दौरा भी किया तथा अपशिष्ट जल उपचार संयंत्र के पास एक पौधा लगाया। उन्होंने डेरा में संत बलबीर सिंह सीचेवाल द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की।
--------------------------
 
चण्डीगढ,11 अक्तूबर-हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग ने पुलिस विभाग में महिला कांस्टेबल (सामान्य ड्यूटी) का शारीरिक माप टेस्ट (पीएमटी) का परिणाम घोषित कर दिया है। इस बारे में जानकारी देते हुए आयोग के एक प्रवक्ता ने कहा कि उक्त टैस्ट में पास उम्मीदवारों के ‘साक्षात्कार-व्यक्तित्व’ टैस्ट उम्मीदवार के कार्ड में उल्लेख तिथि के अनुसार पंचकूला में 16 अक्तूबर से 18 अक्तूबर 2016  तक होंगे।  उन्होंने बताया कि उम्मीदवार 13 अक्तूबर, 2016 के बाद अपने एडमिट कार्ड आयोग की वैबसाइट 222.द्धह्यह्यष्.द्दश1.द्बठ्ठ से डाउनलोड कर सकते हैं। उम्मीदवारों को ‘साक्षात्कार-व्यक्तित्व’ टैस्ट के दिन पंचकूला में आयोग कार्यालय  सैक्टर-2, खंड 67-70 पर  सुबह 9 बजे पहुंचना है। उन्होंने बताया कि साक्षात्कार के समय उम्मीदवार को उनके आवेदन पत्र में बताए गए सभी मूल दस्तावेज और उन दस्तावेजों की सत्यापित प्रतियों का एक सेट भी साथ लाना होगा। उन्होंने यह भी बताया कि आयोग की वेबसाइट पर रोल नंबर और श्रेणी-वार परिणाम भी उपलब्ध है।
-----------------------------------


 
चण्डीगढ़,11 अक्तूबर- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज यहां अपने सरकारी आवास पर हरियाणा संस्कृत अकादमी द्वारा सम्मानित एवं राज्य शिक्षक पुरस्कार अवार्डी पंडित मिथिलेश शास्त्री द्वारा लिखित पुस्तक ‘दीनदयाल उपाध्याय चरितम’ का विमोचन किया। मुख्यमंत्री ने लेखक के प्रयास को सराहते हुए कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय जैसे लोगों का जीवनवृत्त सदा प्रेरणा देने वाला होता है। उन्होंने लेखक को भविष्य में लेखन क्षेत्र में इसी तरह आगे बढ़ते रहने की शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर हरियाणा स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के सदस्य डॉक्टर हर्षमोहन भारद्वाज ,युवा ब्राह्मण सभा के हिसार के प्रधान सुशील कौशिक, जिला ब्राह्मण सभा के प्रधान दयानंद शर्मा, बनभौरी ट्रस्ट के चेयरमैन सुरेंद्र कौशिक, प्राचार्य सुभाष अत्री, जिला परिषद के वाइस चेयरमैन प्रतिनिधि कीर्ति रत्न, व्याख्याता मुकेश कुमार, मनोज कौशिक, सुशील कुमार, प्रवक्ता ललित कृष्ण सांगवान आदि मौजूद थे। इसके बाद प्रतिनिधिमंडल ने शिक्षा मंत्री श्री रामबिलास शर्मा से मुलाकात की और पुस्तक की प्रतियां भेंट की।  
--------------------------
 
चण्डीगढ,11 अक्तूबर-हरियाणा सरकार ने सभी नियमित और अनुबंध कर्मचारियों को 15 अक्टूबर, 2016 तक आधार नंबर और मोबाइल नंबर को ई-बिलिंग प्रणाली में जोडऩे के निर्देश जारी किए हैं। यह जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि हरियाणा सरकार ने ई-बिलिंग प्रणाली में प्रत्येक नियमित और अनुबंध कर्मचारी का मोबाइल नंबर और आधार नंबर अधिकृत करने का निर्णय लिया था।उन्होंने कहा कि तदनुसार, ई-बिलिंग पोर्टल के ‘मेन मिनू’ में आधार और मोबाइल नंबर जोडऩे का विकल्प दिया गया है। इसके अलावा, सभी विभागों के मुखियाओं,मंडल आयुक्तों,उपायुक्तों को भी निर्देश दिए गए हैं कि उनके अधिकार क्षेत्र के अंतर्गत सभी आहरण एवं संवितरण अधिकारी (डीडीओ) निर्देश दिए जाएं कि वे प्रत्येक नियमित व अनुबंध आधार के कर्मचारियों के मोबाइल नंबर व आधार नंबर 15 अक्टूबर 2016 तक ई-बिलिंग प्रणाली से जोड़ दें,वरना सिस्टम अक्तूबर 2016 का वेतन का भुगतान नवंबर माह में नहीं करेगा।

loading...
SHARE THIS

0 comments: