Thursday, October 6, 2016

औचक निरिक्षण में सरकारी स्कूलों का हाल निल बटा सन्नाटा मिला



फरीदाबाद (abtaknews.com )प्रदेश सरकार के सब पढ़े-सब बढ़े नारे को शिक्षक ही पलीता लगा रहे है। इसका ताजा उदाहरण बृहस्पतिवार को गांव गढख़ेड़ा में औचक निरीक्षण करने पहुंची खंड शिक्षा अधिकारी के सामने आया। जब उन्होंने नौनिहालों से पूछा कि क्या उनका रिजल्ट आ गया है? इसपर नौनिहालों ने जबाव दिया कि जब परीक्षा ही नहीं दी, तो रिजल्ट कहां से आएगा। यह सुनकर बीईओ चकित रह गई। उन्होंने मु याध्यापक महेश कुमार को जमकर खरी-खोटी सुनाई और उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की बात कही। बीईओ के निरीक्षण के दौरान स्कूल में कई खामियां उजागर हुई। इससे वहां के शिक्षक बच्चों को किस प्रकार की शिक्षा दे रहे है? इसका सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है।

बृहस्पतिवार सुबह करीब 11 बजे खंड शिक्षा अधिकारी अनीता शर्मा गांव गढख़ेड़ा के राजकीय हाई स्कूल पहुंची। निरीक्षण की बात लीक होने के कारण स्कूल प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद दिखाई दिया। शिक्षा अधिकारी को देख ग्राम पंचायत के पदाधिकारी व ग्रामीण भी स्कूल पहुंच गए। बीईओ ने सर्वप्रथम ग्रामीणों से समस्या सुनी। पंच चंद्रपाल लोर ने बीईओ के समक्ष शिक्षकों की कमी का मुद्दा उठाया। जिसपर बीईओ ने ऑनलाइन तबादले की बात कहकर पल्ला झाड़ लिया। इसके बाद समाजसेवी उदयपाल प्रजापति ने स्कूल में पानी की किल्लत की समस्या उठाई। जिसपर मु याध्यापक महेश ने बताया कि बच्चों को स्कूल में साफ पानी मुहैया कराया जाता है। नल खराब होने की शिकायत कर दी है, जल्द ही बनवा लिया जाएगा। बुजुर्ग महेंद्र पहलवान ने चौकीदार रमेश द्वारा स्कूल कमरों पर कब्जा करने व शराब पीने की शिकायत की। जिसपर स त रूख अपनाते हुए बीईओ ने चौकीदार को बुलाया। लेकिन चौकीदार उस समय भी शराब में धुत पाया गया। बीईओ ने मु याध्यापक को चौकीदार का मेडिकल कराने के निर्देश दिए। हालांकि पंचायत ने बीच-बचाव करते हुए बीईओ से चौकीदार के लिए कुछ दिन की मोहलत मांगी। चौकीदार ने इस एवज में लिखकर मु याध्यापक को आश्वासन दिया।

बीईओ ने टीचरों को लगाई फटकार;-बैठक खत्म होने के बाद बीईओ ने क्लास वाइज स्कूल का निरीक्षण किया। सर्वप्रथम बीईओ छठीं कक्षा में पहुंची। उन्होंने नौनिहालों से कुशलक्षेम पूछने के बाद परीक्षा कैसी रही? पूछा। लेकिन नौनिहालों ने परीक्षा आयोजन से मना कर दिया। जिसे सुनकर बीईओ का दिमाग ठनक गया। बीईओ ने मुख्याध्यापक को जमकर लताड़ लगाई और कारण पूछा।  मुख्याध्यापक ने प्रश्न पत्र की कमी का बहाना लगाया। बीईओ ने  मुख्याध्यापक से प्रश्र पत्रों की फोटोकॉपी कराने की बात कही। जिसपर उनकी बोलती  बंद हो गई। नाराज बीईओ ने  मुख्याध्यापक महेश व सीआरसी महेंद्र सिंह के खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने की बात कही। निरीक्षण के दौरान आठवीं कक्षा में भी मासिक परीक्षा न होने की बात सामने आई।

गुणा-भाग नहीं कर पाए बच्चे ;-निरीक्षण के दौरान बीईओ ने कक्षा छह के बच्चों को आठ गुणा नौ सवाल का जबाव मांगा। लेकिन बच्चे गुणा नहीं कर पाए। इसके पश्चात बीईओ नौवीं कक्षा में गई। जहां नौनिहालों ने उनसे पंखा न चलने की शिकायत की। इस दौरान बीईओ ने बच्चों को प्रतिदिन स्कूल आने की नसीयत दी। साथ ही ग्राम पंचायत से 17 अप्रैल को होने वाली पेरेंट्स टीचर मीटिंग को सफल बनाने, शिक्षक की कमी को दूर करने के लिए अस्थाई तौर पर शिक्षक लगाये, स्वच्छ पानी की व्यवस्था व साफ-सफाई में सहयोग मांगा। बीईओ स्कूल में करीब ढाई घंटे रही।

बल्लभगढ़,खंड शिक्षा अधिकारी अनीता शर्मा;- औचक  निरीक्षण के दौरान गढख़ेड़ा गांव के सरकारी स्कूल में कई खामियां पाई है। पठन-पाठन की खराब गुणवत्ता पर कड़ा संज्ञान लेते हुए समस्त स्कूल स्टाफ को कार्यालय तलब किया है। ताकि सही तरह से टाइम टेबल बनाया जा सके। ग्राम पंचायत व अन्य ग्रामीणों से ाी सहयोग मांगा है। निश्चित तौर पर हम शिक्षा स्तर को उठाने में सफल होंगे।



loading...
SHARE THIS

0 comments: