Sunday, October 9, 2016

हनुमान रावण के आपसी संवाद के बाद लंका जलाई


फरीदाबाद 9 अक्तूबर(abtaknews.com ) गढ़वाल सभा द्वारा सेहतपुर में आयोजित रामलीला में हनुमान रावण संवाद, हनुमान द्वारा लंका दहन व अंगद रावण संवाद व लक्ष्मण मूर्छित का आयोजन किया गया। हनुमान व रावण संवाद में जब हनुमान कहते है कि भगवान श्रीराम ने मुझे आदेश दिया है कि माता सीता केा ढूंढ कर लाओ और उसी आदेश के चलते मैं यहां आया हूं और मैं यह लंका दहन कर दूंगा जिस पर रावण अपने कडे शब्दो में कहता है कि एक वानर मेरी लंका कैसे उजाड पायेगा जिस पर हनुमान अपनी पूंछ से पूरी लंका को तहस नहस कर देता है का दृश्य काफी मनमोहक एवं देखने लायक था उसके पश्चात अंगद व रावण संवाद व लक्ष्मण मूर्छित होने वाले दृश्यों में कलाकारो ने पूरी ईमानदारी बरती और अपने अपने अभिनय को जनता के समक्ष इसतरह से पेश किया कि वाकई में वह सच्चे  कलाकार है।

इस अवसर पर गढ़वाल सभा के अध्यक्ष देव सिंह गुंसाई की धर्मपत्नी द्वारा रामलीला का शुभारंभ किया गया और उन्होंने कहा कि श्रीराम के पदचिन्हों पर चलकर अपने जीवन को सफल बनाये। रामलीला के संयोजक गढ़वाल जन जागृति संस्था के अध्यक्ष मातवर सिंह रावत, महासचिव हर्षपाल सिंह नेगी व सांस्कृतिक सचिव महीपाल सिंह नेगी  ने आये हुए सभी अतिथियों को सम्मानित किया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: