Thursday, October 13, 2016

मुजेसर हत्याकांड के दोषियों जल्द गिरफ्तार करे पुलिस-प्रशासन : शारदा राठौर



फरीदाबाद 13 अक्टूबर(abtaknews.com ) बीते सोमवार को गांव मुजेसर स्थित होटल में बेलगाम ट्रक की चपेट में आकर हुई दो लोगों की मौत के मामले मेें प्रशासन द्वारा कोई कार्यवाही न किए जाने के विरोध में ग्रामीणों का धरना दूसरे दिन भी जारी रहा। आज धरने में पूर्व मुख्य संसदीय सचिव एवं बल्लभगढ़ की पूर्व विधायिका शारदा राठौर ने पहुंचकर इस घटना पर गहरा दुख जताते हुए मृतकों के परिवार को सांत्वना दी। इस मौके पर शारदा राठौर ने कहा कि पुलिस प्रशासन द्वारा इस मामले में मुकदमा दर्ज करने के कई दिन बीतने के बावजूद फैक्टरी मालिक की गिरफ्तारी न होना प्रशासन की लापरवाही को दर्शाता है। यह हादसा नहीं बल्कि सोची समझी साजिश के तहत अंजाम दिया हत्याकांड है और इस मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। उन्होंने धरने पर बैठे लोगों को विश्वास दिलाया कि कांग्रेस पार्टी इस मामले में पूरी तरह से पीडितों के साथ है और इस पूरे मामले की निष्पक्ष जांच करवाकर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए पूरी तरह से लोगों के साथ है। लोगों की मांग पर बल्लभगढ़ के संयुक्त आयुक्त अमरदीप जैन ने ग्रीन बैल्ट पर बने धर्मकांटे का मौका मुआयना किया। इस अवसर पर शारदा राठौर ने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा से पीडि़तों की बात करवाई और उन्हें दोषियों के खिलाफ कार्यवाही का विश्वास दिलाया वहीं श्री हुड्डा ने संयुक्त आयुक्त अमरदीप जैन से भी बात करते हुए उनसे कहा कि वह इस मामले को गंभीरता से लेते हुए लोगों की मांग पर विवादित धर्मकांटे को यहां से हटाए। धर्मकांटे का मौका मुआयना करने के उपरांत संयुक्त आयुक्त ने धरने पर बैठी पूर्व मुख्य संसदीय सचिव शारदा राठौर व अन्य विपक्षी दलों के नेताओं को आश्वासन दिया कि शुक्रवार 12 बजे तक इस धर्मकांटे को हटा दिया जाएगा। लोगों ने चेतावनी दी कि अगर कल 12 बजे तक धर्मकांटा नही हटाया गया तो वह आंदोलन को और तेज करेंगे। इस अवसर पर वरिष्ठ कांग्रेसी नेता लखन सिंगला, इनेलो नेता ललित बंसल, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव किरण गोदारा, युवा कांग्रेस बल्लभगढ़ के ब्लाक अध्यक्ष नरेश गोदारा, भाजपा नेता ऋषि चौधरी, सुभाष लाम्बा, धर्मवीर परसवाल, सहीराम रावत, सुरेंद्र लाम्बा, देवीलाल, देवेंद्र त्यागी, चौधरीराम फौजरदार, बलवीर, अर्जुन सहित मुजेसर गांव के गणमान्य लोग मौजूद थे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: