Sunday, October 2, 2016

नवरात्रों के दूसरे दिन वैष्णवदेवी मंदिर में हुई मां ब्रहमचारिणी की भव्य पूजा


फरीदाबाद(abtaknews.com )श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर तिकोना पार्क में रविवार को मां  दुर्गा की दूसरी शक्ति मां ब्रहमचारिणी की भव्य पूजा अर्चना की गई। मंदिर संस्थान के प्रधान जगदीश भाटिया ने प्रातकालीन पूजा का शुभारंभ करवाया। इस अवसर पर उनके साथ मंदिर संस्थान के चेयरमैन प्रताप भाटिया ,महामंत्री इंद्रजीत सिंह सब्बरवाल, उपाध्यक्ष फकीरचंद कथूरिया, कोषाध्यक्ष गिर्राजदत्त गौड़ , डा. पीसी सेठ, एडवोकेट दीपक गेरा, सुरेंद्र गेरा, सतीश भाटिया, बलजीत भाटिया, गोविंदराम,  रवि सोनी, अनिल भाटिया, प्रीतम धमीजा,  इंचार्ज बसंत कालड़ा , अनिल ग्रोवर, धीरज कुमार , शकुलंता नारंग, मनोज शर्मा, रमेश सहगल, राजेश भाटिया, प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

प्रधान जगदीश भाटिया ने ज्योति प्रवज्जलित कर उपस्थित श्रद्धालुओं को बताया कि ब्रहम का अर्थ है तपस्या और चारिणी यानि आपचरण करने वाली।  इस प्रकार ब्रहमचारिणी का अर्थ हुआ तप का आचरण करने वाली। इनके दाहिने हाथ में जप की माला एवं बाएं हाथ  में कमंडल रहता है। इस दिन साधक कुंडलिनी शक्ति का जागृत करने के लिए मां की साधना करते हैं। जिससे उनका जीवन सफल हो सके। श्री भाटिया ने कहा कि मां दुर्गा का यह दूसरा स्वरूप भक्तों और सिद्धों को अनंत फल देने वाला है। इनकी उपासना से मनृष्य में तप, त्याग, वैरागय, सदाचार एवं संयम की वृद्धि होती है। जीवन के कठिन समय में भी भक्त का मन विचलित नहीं होता। उन्होंने बताया कि इस दिन ऐसी कन्याओं का पूजन किया जाता है, जिनका विवाह तय हो जाता है, लेकिन अभी उनका विवाह नहीं हुआ है। इन्हें अपने घर बुलाकर पूजन के पश्चात भोजन कराकर वस्त्र एवं पात्र भेंट किए जाते हैं। श्री भाटिया ने बताया कि इन नवरात्रों में प्रतिदिन मंदिर में भंडारे एवं विशेष खीर का वितरण किया जाता है। भक्त मंदिर में आकर अपनी मनोकामना मांगते हैं, जोकि अवश्य पूरी होती है।


loading...
SHARE THIS

0 comments: