Wednesday, October 19, 2016

गैंगरेप पीडिता हालत गंभीर, बी के में भर्ती, छात्रनेता भूदत्त पाराशर ने कहा पीड़िता की करेंगे मदद



फरीदाबाद-19 अक्टूबर(abtaknews.com ) करवाचौथ के दिन जहां विवाहिता अपने पति की दीर्घायु की कामना करती है। वहीं एक गैंगरेप पीडिता न्याय के लिए तीन दिन से आमरण अनशन पर बैठी है। पुलिस आयुक्त कार्यालय के सामने न्याय की लड़ाई लड रही पीडिता के अनशन के तीसरे दिन हालत गंभीर हो गई है। पूर्व छात्र नेता भूदत्त पाराशर ने पीडित को समर्थन देने के लिए धरना स्थल पर पहुंचे। पुलिस प्रशासन मूक दर्शक बना हुआ है।
सेक्टर 21 सी स्थित पुलिस आयुक्त कार्यालय के बाहर अपनी मांगों को लेकर एवं दोषियों की गिरफ्तारी तक अपना अनशन जारी रखने वाली गैंगरेप पीडिता के धरने के तीसरे दिन हालत गंभीर हो गई है। धरने के तीसरे दिन पीडिता को समर्थन देने पहुंचे पूर्व छात्र नेता भूदत्त पाराशर, कांग्रेसी नेत्री खुशबु खान, समाजसेविका डॉक्टर आलोक दीप, अनशनकारी बाबा रामकेवल,युवा नेता गुलशन कुमार मुख्यरूप से उपस्थित रहे।
अनशन के तीसरे दिन गैंगरेप पीडिता की हालत गंभीर हो गई है। पीडिता बोल नही पा रही है। पीडिता की लडाई का समर्थन करने पहुंचें पूर्व छात्र नेता भूदत्त पाराशर ने मीडिया से बातचीत में कहा कि इस महिला के साथ गलत हुआ और उससे भी गलत पुलिस प्रशासन कर रहा है। न्याय मिलने में देरी होना भी अन्याय ही कहलाता है। श्री पाराशर ने कहा कि पीडिता पिछले  11 महीनों से न्याय के लिए शांतिपूर्वक संघर्ष कर रही है। बावजूद उसके पुलिस प्रशासन उचित कार्रवाई नही कर रहा है। श्री पाराशर ने पुलिस आयुक्त डॉक्टर हनीफ कुरैशी से मिलाकात कर पीडिता को जल्द से जल्द एवं सही न्याय दिलाने की मांग रखी।
क्या है मामला - पीडिता जो कि फरीदाबाद की रहने वाली है जिसके साथ मथुरा-वृंदावन में 31 अक्टूबर, 2015 को सामूहिक बलात्कार किया गया जिसमें कुल 5 लोग शामिल थे। इस शर्मनाक वारदात को 10 दिन बाद पूरा एक साल हो जाएगा लेकिन फरीदाबाद पुलिस पीडिता को पूर्ण न्याय नही दिला पाई है। उक्त आरोपियों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई की मांग को लेकर पीडिता पिछले 11 महीने से न्याय के लिए भटक रही है।
संपर्क सूत्र -  ९५९९४५७५९३


loading...
SHARE THIS

0 comments: