Monday, October 3, 2016

गढ़खेड़ा सरकारी स्कूल राम भरोसे



बल्लभगढ़(abtaknews.com ) सब पढ़ें-सब बढ़े का नारा देने वाली हरियाणा सरकार स्कूलों में मूलभूत सुविधा यानी पीने का स्वच्छ पानी तक मुहैया कराने में भी असफल साबित हो रही है। ऐसा आलम गढख़ेड़ा गांव के सरकारी स्कूल में देखने को मिला। जहां पढऩे वाले नौनिहालों को अपने घरों से बोतलों में पीने का पानी लाने को मजबूर होना पड़ रहा है। सत्र शुरू होने के छह माह भी शिक्षा विभाग यहां बेहतर सुविधाएं मुहैया नहीं करा पाया है।  

सोमवार सुबह स्कूल के हालत का जायजा लेने के लिए ग्राम पंचायत के प्रतिनिधि विवेक सैनी, समाजसेवी उदयपाल प्रजापति, पंच ईश्वर, पंच चंद्रपाल लोर, कपिल और बॉबी पहुंचे। जहां उन्होंने देखा कि स्कूल में मूलभूत सुविधाओं का अकाल है। सरपंच के देवर एवं पंचायत प्रतिनिधि विवेक सैनी ने बताया कि हाई स्कूल में इस समय 300 से ज्यादा बच्चे पढ़ते है। लेकिन इसके बावजूद कई महीन से स्कूल में विज्ञान और गणित के अध्यापक नहीं है। जिसके कारण स्कूल का शिक्षा स्तर लगातार गिर रहा है। समाजसेवी उदयपाल प्रजापति का कहना है कि जहां पीने के पानी की कमी के चलते जहां बच्चों को घरों से बोतलों में पानी भरकर लाना पड़ता है। वहीं दूसरी ओर विभाग यह सब जाने हुए यह मूलभूत सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए कोई प्रयास नहीं करता। इतना ही इसके लिए अभी तक कोई जांच अभियान भी नहीं चलाया गया। इससे साबित होता है कि विभागीय अधिकारियों द्वारा सभी सुविधाएं उपलब्ध करवाने के केवल भाषण ही दिए जाते है,  काम नहीं होता। पंच ईश्वर ने बताया कि जांच-पड़ताल के दौरान पता चला कि प्राथमिक स्कूल का इंचार्ज अपने ज्वाइनिंग के बाद आज तक सिर्फ तीन दिन स्कूल आया है। स्कूल बिना इंचार्ज राम भरोसे चल रहा है। पंचायत प्रतिनिधियों का कहना है कि निरीक्षण में सामने आई समस्याओं को लेकर जल्द ही सीएम विंडो पर शिकायत की जाएगी। 
----------
खंड शिक्षा अधिकारी बल्लभगढ़ अनीता शर्मा जल्द ही मैं स्वयं स्कूल का दौरा करूंगी और वहां की समस्याओं को दूर करने का प्रयास किया जाएगा। पानी नहीं है, इस समस्या को लेकर कभी स्कूल प्रशासन ने जानकारी नहीं दी। कल ही मैं रिपोर्ट तलब करूंगी। 
 

loading...
SHARE THIS

0 comments: