Monday, October 3, 2016

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जे.पी. नड्डा ने गांधी जयंती पर किया ‘श्रमदान’


केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्री श्री जे.पी. नड्डा ने गांधी जयंती के अवसर पर आज सफदरजंग अस्‍पताल में ‘स्‍वच्‍छ भारत अभियान’ के एक हिस्‍से के रूप में ‘श्रमदान’ किया। इस अवसर पर श्री नड्डा ने कहा कि माननीय प्रधामनंत्री द्वारा शुरू किये गये स्‍वच्‍छ भारत अभियान के पीछे के विजन एवं दर्शन को क्रियान्वित करने के लिए स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने भी पिछले वर्ष कायाकल्‍प पहल की शुरूआत की थी, जिससे कि सरकारी स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्रों में सफाई एवं स्‍वच्‍छता के लिए प्रोटोकॉल निर्धारित किये जा सकें।

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा कि ‘कायाकल्‍प’ पहल देश में प्रत्‍येक सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र को उत्‍कृष्‍ट के मानकों की दिशा में कार्य करने को प्रोत्‍साहित करेगी, जिससे कि स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्र साफ एवं स्‍वच्‍छ बने रह सकें। यह बात केवल शारीरिक सफाई पर ही लागू नहीं होती बल्कि जैव अपशिष्‍ट निपटान या प्रोटोकॉल आदि जैसी गतिविधियों के लिए प्रणालियों एवं प्रक्रियाओं की स्‍थापना करने पर भी लागू होती है। उन्‍होंने कहा कि सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्रों में कुल ‘स्‍वच्‍छता’ की दिशा में इस पहल का उद्देश्‍य सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्रों में उपयोगकर्ताओं के विश्‍वास का निर्माण करना, गुणवत्‍तापूर्ण सेवा प्रदान करना तथा टीम कार्य को प्रोत्‍साहित करना है।

श्री नड्डा ने सूचित किया कि इस वर्ष केन्‍द्र सरकार के अस्‍पतालों तथा 26 बड़े राज्‍यों के जिला अस्‍पतालों को ‘कायाकल्‍प’ पुरस्‍कार प्रदान किये गये। केन्‍द्र सरकार अस्‍पताल वर्ग के तहत पहला पुरस्‍कार पोस्‍ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च (पीजीआईएमईआर) चंडीगढ़ को, दूसरा पुरस्‍कार अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान (एम्‍स) दिल्‍ली को और तीसरा पुरस्‍कार नॉर्थ ईस्टर्न इंदिरा गांधी इंस्‍टीट्यूट ऑफ हेल्‍थ एंड मेडिकल साइंस (एनईआईजीआरआईएचएमएस) शिलांग को दिया गया।

स्‍वच्‍छता कर्मचारियों के योगदान की सराहना करते हुए श्री नड्डा ने कहा कि ऐसे विशाल अस्‍पताल की सफाई एवं स्‍वच्‍छता का रख-रखाव करना एक बड़ी चुनौती है, लेकिन स्‍वच्‍छता कर्मचारियों ने एक सराहनीय कार्य किया है। उन्‍होंने कहा कि ‘स्‍वच्‍छता’ को एक सामाजिक आंदोलन बन जाना चाहिए और सफाई एवं स्‍वच्‍छता के बारे में जागरूकता देश के हरेक गांव तक पहुंचनी चाहिए।

श्री जे.पी. नड्डा ने स्‍वच्‍छ एवं हरित भारत के संदेश को प्रचारित करने के लिए सफदरजंग अस्‍पताल के परिसर में एक पौधा भी लगाया और सहभागियों एवं कार्यकर्ताओं के साथ स्‍वच्‍छता संकल्‍प भी लिया।

श्री नड्डा ने कहा कि सफाई एवं स्‍वच्‍छता सिर्फ एक बार की ही गतिविधि नहीं रहनी चाहिए, बल्कि इसे हमारे दैनिक जीवन का एक हिस्‍सा बन जाना चाहिए। उन्‍होंने यह भी कहा कि सभी अस्‍पतालों एवं सरकारी स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्रों को पूरे वर्ष सफाई एवं स्‍वच्‍छता के रख-रखाव का प्रयास करना चाहिए।

स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण राज्‍य मंत्री (स्‍वास्‍थ्‍य) श्रीमती अनुप्रिया पटेल ने लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज में श्रमदान किया और स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के वरिष्‍ठ अधिकारियों तथा एलएचएमसी के चि‍कित्‍सकों एवं कर्मचारियों की उपस्थिति में स्‍वच्‍छ भारत का संकल्‍प लिया।

स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय के सचिव श्री सी के मिश्रा, डीजीएचएस डॉ. जगदीश प्रसाद एवं स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के वरिष्‍ठ अधिकारियों ने भी सफदरजंग अस्‍पताल में श्रमदान किया तथा प्रत्‍येक सप्‍ताह दो घंटे सफाई गतिवि‍धियों की दिशा में कार्य करने का संकल्‍प लिया। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: