Monday, October 3, 2016

इस्पात मंत्री बीरेन्द्र सिंह ने सेल का दौरा किया


माननीय केंद्रीय इस्पात मंत्री बीरेन्द्र सिंह ने आज स्टील अथॉरिटी ऑफ इण्डिया लिमिटेड (सेल) के मुख्यालय का दौरा किया और स्वच्छ भारत अभियान की दूसरी सालगिरह पर कंपनी द्वारा चलायी जा रही स्वच्छता गतिविधियों की समीक्षा की। इस अवसर पर माननीय मंत्री ने सेल अध्यक्ष श्री पी.के.सिंह और सभी निदेशकगण समेत सेल परिवार को सामूहिक रूप से “स्वच्छता शपथ” दिलाई।

सेल द्वारा किए गए पहलों की सराहना करते हुए माननीय मंत्री ने कहा, “स्वच्छता एक जीवनशैली है और यह लगातार जागरूक अभ्यास से आती है। एक स्वच्छ वातावरण न केवल स्वस्थ कार्य का माहौल उपलब्ध कराती है बल्कि हर कार्मिक की उत्पादकता को भी बढ़ाती है।” औद्योगिक स्थलों और संयंत्रों में स्वच्छ और स्वस्थ कार्यशैली के महत्व को रेखांकित करते हुए, माननीय मंत्री ने कहा, “संयंत्र और खदानों के आसपास के क्षेत्रों को स्वच्छ रखना आवश्यक है, जिससे कार्मिकों को कार्य का एक बेहतर माहौल मिल सके।” आगे उन्होंने, “सेल स्वच्छ भारत अभियान के सहभागी के रूप में अपने कार्मिकों और संयंत्रों तथा उसके आसपास के समुदायों को शामिल करने का प्रयास कर रहा है, जिससे यह एक जनअभियान बन सके।”

माननीय प्रधानमन्त्री श्री नरेंद्र मोदी के “स्वच्छ भारत अभियान” से प्रेरणा लेते हुए, सेल देशभर में स्थित अपने संयंत्रों और इकाइयों में लगातार स्वच्छता अभियान चला रहा है। सेल अपने टाउनशिप और उसके आसपास के क्षेत्रों, संयंत्रों, और आसपास के गाँवों के अधिकतर केन्द्रों पर स्वच्छ भारत से संबंधित गतिविधियों पर जोर दे रहा है। स्वच्छ भारत अभियान के एक हिस्से के रूप में कंपनी ने अपनी सभी इकाइयों में कार्मिकों के लिए बहुत सी गतिविधियाँ चालू की है। सेल बोर्ड ने वर्ष 2014-16 के दौरान रुपया 29 करोड़ इस अभियान में मद में खर्च करने के लिए निर्धारित किया है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय के निर्धारण के अनुरूप, सेल ने अपने संयंत्रों और इकाइयों के क्षेत्र के भीतर आने वाले स्कूलों में आवश्यक संख्या में शौचालयों का निर्माण पहले ही पूरा कर लिया है।

सेल अध्यक्ष श्री पी.के.सिंह ने माननीय इस्पात मंत्री द्वारा सेल के स्वच्छता अभियान पहल की समीक्षा हेतु समय निकालने के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने आगे कहा कि माननीय मंत्री की गरिमामयी उपस्थिति ने, प्रत्येक सेल कार्मिक की स्वच्छता को अपना जीवन दर्शन बनाने के संकल्प को और अधिक प्रेरित किया है। उन्होंने कहा, “माननीय मंत्री द्वारा सभी कार्मिकों को दिलवाई गई सामूहिक स्वच्छता शपथ, हममें से प्रत्येक को घर और कार्यस्थल दोनों पर स्वच्छता गतिविधियों में सहयोग करते हुए, इस अभियान का हिस्सा बनने के लिए प्रोत्साहित करेगा।” माननीय मंत्री ने उद्योग भवन के विभिन्न कक्षों और सीजीओ कॉम्प्लेक्स में स्थित मॉयल कार्यालय का भी निरीक्षण किया। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: