Wednesday, September 21, 2016

पलवल में बिजली चोरी रोकने के लिए बिजली निगम ने किया लॉस रिडक्शन प्लान तैयार



पलवल, 21 सितंबर(abtaknews.com ) हरियाणा सरकार के निर्देशानुसार बिजली की उपलब्ध बढ़ाने तथा चोरी रोकने के लिए बिजली निगम ने लॉस रिडक्शन प्लान तैयार किया है। जिसके तहत शहरों में  तथा गांवों में बिजली चोरी पकडऩे का विशेष अभियान चलाया जा रहा है।    उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने बताया कि अगस्त माह जिले में बिजली चोरी के 349 केस दर्ज किए गए  और 63.37 लाख रूपये का जुर्माना लगाया गया। जिसमें 28.71 लाख रूपये वसूल किए तथा 277 लोगों के खिलाफ मुकदमें दर्ज करवाए गए। 

उन्होंने बताया कि म्हारा गांव-जगमग गांव के अंतर्गत जिला के तीन फीडरों जैनपुर(हथीन), लीखी(होडल) तथा किठवाड़ी(पलवल) में क्रमश: 41,34 तथा 63 लोगों पर  बिजली चोरी के केस बनाए गए। जिन पर क्रमश: 10.25 लाख रूपये, 06.27 लाख रूपये तथा 05.83 लाख रूपये का जुर्माना लगाया गया। इसी प्रकार इस सितंबर माह में  गत 18 सितम्बर तक  बिजली चोरी के 180 केस बनाए गए , जिन पर 27.11 लाख रूपये का जुर्माना किया गया तथा 13.51 लाख रूपये राशि वसूल की गई है। 

उन्होंने बताया कि बिजली चोरी पकडऩे का यह अभियान आगे भी जारी रहेगा तथा लोगों से अपील की है कि  बिजली चोरी न करें तथा ना किसी को करने दें क्योकि बिजली चोरी का खामियाजा भी आम उपभोक्ताओं का वहन करना पड़ता है। अत: भविष्य में बिजली चोरी रोकने के लिए और अधिक सख्ती से निपटा जाएगा। लाइन लॉश बढऩे का एक कारण यह भी पाया गया है कि बिजली विभाग से कनैक्शन  लिए बिना स्ट्रीट लाईट लगा ली जाती है। अत: पंचायतों को बिजली विभाग से वैद्य कनैक्शन लेकर ही स्ट्रीट लाईटों का इस्तेमाल करना चाहिए अन्यथा ग्राम पंचायत के विरूद्ध बिजली चोरी का केस बनाया जाएगा। संज्ञान में  यह भी आया है कि कुछ गांवों में ग्राम पंचायत तथा आम लोगों द्वारा बैगर बिजली कनैक्शन लिए समरसिवल, पैम्प सैट इस्तेमाल किए जा रहे हैं। अत: ग्राम पंचायतों व लोगों से आहवान किया है कि वो कोई भी बिजली का उपकरण बगैर वैध कनैकशन के इस्तेमाल न करें क्योकि बिजली चोरी न केवल एक सामाजिक बुराई है, बल्कि गैर जमानती अपराध भी है। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: