Saturday, September 17, 2016

यंत्रों के देवता थे भगवान् विश्वकर्मा;- शारदा राठौर


बल्लबगढ़ 17 सितंबर, 2016(abtaknews.com ): हिन्दू धार्मिक मान्यताओं और ग्रंथों के अनुसार भगवान् विश्वकर्मा को निर्माण एवं सृजन का देवता माना जाता है ।  हिन्दू संस्कृति में भगवान् विश्वकर्मा को यंत्रों का अधिष्ठाता और देवता माना गया है। यह विचार पूर्व मुख्य संसदीय सचिव हरियाणा एवं पूर्व विधायिका कुमारी शारदा राठौर ने शनिवार सेक्टर तीन बल्लबगढ़ में पूर्वांचल विश्वकर्मा पूजा समिति द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में व्यक्त किया । कुमारी राठौर ने कहा कि भगवान्  विश्वकर्मा ने मानव को सुख-सुविधाएँ प्रदान करने के लिए अनेक यंत्रों व शक्ति संपन्न भौतिक साधनों का निर्माण किया। इनके द्वारा मानव समाज भौतिक चरमोत्कर्ष को प्राप्त करता रहा है। 

इस मौके पर समिति ने सांस्कृतिक प्रोग्रामों का आयोजन भी कर रक्खा था जिसका सभी ने लुत्फ़ उठाया । समिति के पदाधिकारियों कुमारी राठौर का समारोह में पहुँचने पर जोरदार स्वागत किया एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया । इस मौके पर पंकज सिंह, रविंदर यादव, बिकारी यादव, सुदीप झा, अनूप यादव, हरिराम फौजदार, बी एन झा, सीमा शर्मा आदि मौजूद रहे । 

loading...
SHARE THIS

0 comments: