Wednesday, September 28, 2016

दौलताबाद में अम्बेडकर की प्रतिमा को तोड़ने पर आमादा प्रशासन, ग्रामीणों का धरना जारी



फरीदाबाद (सितंबर-28,2016(abtaknews.com   ) दिनांक 25 सितम्बर को हुडा विभाग का तोडफोड दस्ता पुलिस फोर्र्स के साथ गाँव दौलताबाद मे बाबा साहब अम्बेडकर की प्रतिमा को तोडने आया था जिसे सभी गाँव वासियों के विरोध आगे वापिस जाना पडा। लेकिन जाते जाते विभाग के अधिकारी कह गये कि यह मुर्ति अवैध हैं और इसे जल्द ही तोड दिया जायेगा। इसी डर के चलते गांव वासी बाबा साहब की प्रतिमा के सामने ही धरने पर बैठ गये। जिसको आज चार दिन हो गये है।

दौलताबाद गांव वासियों ने कहा कि जिस जमीन पर बाबा साहब अम्बेडकर की मूर्ति लगी हैं वह जमीन गांव के अनुसूचित परिवारों की हैं जिस पर बीस पच्चीस वर्ष पूर्व गांव वासियों ने यह प्रतिमा लगाई थी। अब हुडा विभाग हमारी जमीन पर अनाधिकृत कब्जा करना चाहती है जोकि दलितों के साथ सरासर अन्याय हैं। बाबा साहब की प्रतिमा तोडना दलितों की भावनाओं ठेस पंहुचाना हैं। देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी दलितों की रक्षा करने की बात करते हैं, प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल जी भी सभी वर्गो को सम्मान देने की बात करते है। बाबा साहब अम्बेडकर सिर्फ दलितो के ही नही बल्कि सभी वर्गाे के नेता थे। लेकिन हुडा विभाग के अधिकारी न तो प्रधानमंत्री की परवाह करते हैं और न ही प्रदेश के मुख्यमंत्री के आदेशो की और उनके लिए भारत रत्न बाबा साहब डा भीम राव अम्बेडकर के लिए भी सम्मान नही हैं।

आज धरने पर प्रधान इन्दरपाल सागर, रतिराम जिला अध्यक्ष बसपा, रामफल जांगडा, राजपाल, मानसिंह, महेश, लखनपाल, संजय कुमार, चंद्रपाल भारती, विनोद, सतीश, भरत सिंह, सालग राम, रमेश चंद, दर्शन सिंह, वेदराम, मुकेश कुुमार, राजकुमार, कपिल शाह, कुलदीप, बाबूलाल गुरी, पतराम, दौलतराम, अमरसिंह, प्रदीप, कमल बाबू, डैनी, शिवाजी, रोहित आदि लोग मौजूद थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: