Monday, September 26, 2016

''जरूरतमंद बच्चों को साक्षर बनाना, उनकी उच्च शिक्षा में मदद करना सबसे बड़ा पुण्य कार्य"


फरीदाबाद 26 सितम्बर(abtaknews.com ) मानव सेवा समिति द्वारा संचालित मानव विद्या निकेतन स्कूल बल्लबगढ़ की सहायतार्थ आयोजित की जा रही श्रीमद् देवी भागवत महापुराण के सातवें दिन कथा व्यास संत श्री कृष्णा स्वामी ने अपने प्रवचन में कहा कि जरूरतमंद बच्चों को साक्षर बनाना, उनकी उच्च शिक्षा में मदद करना सबसे बड़ा पुण्य कार्य है। मानव सेवा समिति के सदस्य यह पुण्य कार्य पिछले 17 साल से कर रहे है। उनके इस कार्य में सब लोगों को मदद करनी चाहिये। श्री व्यास जी ने इस विद्यालय में जाकर बच्चों को आर्शीवाद प्रदान किया। कथा प्रसंग के दौरान उन्होंने देवी मां की महिमा में यह भजन ''मैया तेरे चरणों की रज धूल जो मिल जाये, सच कहती हूं मैया, मेरी किस्मत ही बदल जाये" सुनाकर सभी 9 देवियों की प्रार्थना की। आज की कथा में कृष्ण राधा की लीलाओं का वर्णन सुनाया गया और राधा कृष्ण की सुन्दर झांकी का अवलोकन सभी भक्तजनों को कराया। इस मनोहर झांकी के सामने महिलाओं व समिति के पदाधिकारियों ने इस सुन्दर भजन ''बांके बिहारी कजरारे मोटे मोटे तेरे नेन, हाय नजर न लग जाये" पर जमकर नृत्य किया। आज की कथा में सत्यवादी राजा हरीशचंद की कथा, एकादशी व्रत की महिमा के बारे में बताया गया। उन्होंने कहा कि कथा सत्यंग सुनने की सार्थकता तभी फलदायी होती है जब मनुष्य अपने व्यवहार से झुठ, क्रोध, ईष्या, असत्यता का त्याग कर अपने जीवन में श्रेष्ठ संस्कार, अनुशासन, ईमानदारी, धेर्य आदि का पालन करे।

कथा सुनने के लिये प्रमुख समाजसेवी व दानी सज्जन दिनेश शर्मा, सी. वी. रावल, राकेश गुप्ता, नवीन पसरीजा, सुनील गर्ग, नीलम आहुजा, सुधा गर्ग, एस. एन. गर्ग, अजय अग्रवाल, नारायण झंवर, डा. रोमिल झोड़ा, विनोद मित्तल आदि उपस्थित हुये। जिन्होंने जरूरतमंद बच्चों की सहायतार्थ आर्थिक सहयोग प्रदान किया। समिति के अध्यक्ष पवन गुप्ता, चैयरमेन अरूण बजाज, महासचिव कैलाश शर्मा, मुख्य यजमान गौतम चौधरी, वरिष्ठ सलाहकार वाई. के. माहेश्वरी, सुरेन्द्र जग्गा ने इन सभी अतिथिओं व समिति के कार्यकर्ता एस. सी. गोयल, अशोक चावला, अरूणा मित्तल, एस. एस. बागला, सुनील अग्रवाल, सीमा मंगला, सुनीता शर्मा, संजीव शर्मा, अनुभव, बिजेन्द्र गर्ग, जगदीश माहेश्वरी का व्यास जी के द्वारा स्मृति चिन्ह व सम्मान पट्टिका देकर सम्मान कराया। इस अवसर पर महासचिव कैलाश शर्मा ने भक्तजनों को जानकारी दी कि समिति द्वारा 21 अक्टुबर को एम्स के सहयोग से मोतिया बिन्द आप्रेशन का नि:शुल्क कैम्प व देवउठनी एकादशी 11 नवंम्बर को जरूरतमंद कन्याओं का सामुहिक विवाह आयोजित किया जायेगा। कथा का समापन मंगलवार को सुबह 9 बजे यज्ञ हवन व 12 बजे भंडारे के साथ किया जायेगा।

loading...
SHARE THIS

0 comments: