Thursday, September 15, 2016

वित्त मंत्री ने सभी पेंशनधारकों हेतु वेब आधारित पेंशनर सेवा पोर्टल की शुरूआत की


केन्द्रीय वित्त एवं कॉपोरेट मामलों के मंत्री श्री अरूण जेटली ने महालेखा नियंत्रक (सीजीए) कार्यालय द्वारा पेंशनधारकों को बेहतर सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से वेब आधारित पेंशनर सेवा पोर्टल शुरू करने की सराहना की। केन्द्रीय वित्त मंत्री श्री अरूण जेटली आज यहां नई दिल्ली में महालेखा नियंत्रक के नये कार्यालय के उद्घाटन के मौके पर उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। केन्द्रीय वित्त मंत्री ने आईटी पहल जैसे पीएफएमएस (सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन प्रणाली) और एनटीआरपी (नॉन कर रसीद पोर्टल) की तरह सरकार के राजस्व और व्यय की बढ़ती मात्रा से निपटने में सीजीए की भूमिका की सराहना की। साथ ही उन्होंने सरकारी व्यय और राजस्व की गुणवत्ता का आकलन करने में डेटा विश्लेषण के महत्व पर भी प्रकाश डाला। इसके अलावा श्री जेटली ने आवंटित धनराशि को सही लाभार्थी तक पहुंचाने में पीएफएमएस की भूमिका की सराहना की। इस समारोह की सह-अध्यक्षता व्यय राज्यमंत्री श्री अर्जुन राम मेघवाल ने की और इसमें सरकार के कई मंत्रालयों और विभागों के सचिवों तथा कई अधिकारियों ने भाग लिया।

इस अवसर पर वित्त मंत्री श्री अरूण जेटली ने महालेखा नियंत्रक कार्यालय द्वारा डिजिटल इंडिया के तहत वेब आधारित पेंशनर सेवा पोर्टल शुरू किया। इस पोर्टल को केंद्रीय पेंशन लेखा कार्यालय (सीपीएओ) ने विकसित किया है जहां सभी पेशनधारकों को अपने पेंशन से संबंधित सभी जानकारी जैसे पेंशन की स्थिति, पेंशन का भुगतान और उससे संबंधित बैंकिंग व्यवस्था की एक ही जगह मिलेगी ।इस सेवा से पेंशन शिकायतों के तेजी से निपटारे में मदद मिलेगी।

भारत सरकार के मंत्रालयों और विभागों में आंतरिक लेखा परीक्षण में मजबूती लाने के उद्देश्य से बाद में महालेखा नियंत्रक कार्यालय (सीजीए) और आंतरिक लेखा परीक्षक संस्थान (आईआईए) के बीच एक ज्ञापन (एमओयू) पर भी हस्ताक्षर हुये।

इस नये भवन का प्रारूप और निर्माण केंद्रीय लोक निर्माण विभाग (सीपीडब्ल्यूडी) ने किया है। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: