Monday, September 5, 2016

पलवली सरपंच के भतीजे एवं हरियाणा पुलिसकर्मी दो सगे भाईयों के घर में हुई चोरी




फरीदाबाद-सितंबर 05,2016(abtaknews.com ) चोर पुलिस के डर से भी हुए बेखोफ और पुलिसकर्मियों के घर को ही बना डाला निशाना। ग्रेटर फरीदाबाद के गांव पलवली में रहने वाले हरियाणा पुलिस के एएसआई धर्मेंद्र सिंह और एएसआई प्रमोद दोंनो सगे भाईयों की मौजूदगी में मकान से चोरों ने चोरी की। चोरी मात्र 6 हजार रूपये की है मगर चोरों के होंसले बेसकीमती नजर आयें हैं। चोरों की हरकत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। इस वारदात के बाद पूरे गांव में दहशत का महौल बना हुआ है गांववासी रातों को चैन नींद भी नहीं सो रहे हैं, पूरी रात ग्रामीण चोरों के डर से पहरे दे रहे हैं। हलांकि पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज लेकर अज्ञात चोरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

फरीदाबाद में चोरों के होंसले इतने बुलंद होते जा रहे हैं कि आम जनता की बात छोडो चोरों को पकडने वाले पुलिस कर्मियों के घरों को भी चोर निशाना बना रहे हैं, ऐसी ही वारदात हाल ही ग्रेटर फरीदाबाद के गांव पलवली में रहने वाले एएसआई धर्मेंद्र सिंह और एएसआई प्रमोद दोनों सगे भाईयों के मकान में नजर आई है। जहां 3 - 4 सितंबर की रात 5 चोरों ने बेखोफ होकर करीब 2 बजे जमकर उत्पात मचाया, हैरानी की बात तो ये हैं कि चोरी के वक्त दोनों पुलिसकर्मी अपने घर पर ही मॉजूद थे। चोरी की ये वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है जिसमें साफ साफ नजर आ रहा है कि पहले तीन चोर मकान में घुसते हैं फिर उनके दो साथी अंदर आते हैं, पूरे मकान के दरवाजे बाहर से बंद करने के बाद खिडकी की ग्रिल उखाडकर कमरे में रखी अलमारी को खंगालते हैं जहां से उन्हें पुलिसकर्मी धर्मेन्द्र का पर्स मिलता है जिसमें 6 रूपये थे जिसे लेकर फरार हो जाते हैं। इसी बीच पुलिसकर्मियों के पिता नंदकिशोर की आंखें खुलती तो दरवाजे बंद होने के चलते वो बाहर नहीं निकल पाते हैं। और अपने भाई बिल्लू सरपंच को फोन कर दरवाजे खोलने के लिये बुलाते हैं। 
इस बारे में पूरी जानकारी देते हुए बिल्लू सरपंच पीडित पुलिस कर्मियों के चाचा ने बताया कि इस वारदात से करीब एक माह पूर्व उनके घर में भी चोरों ने चोरी की थी जिसमें उनका भी कुछ सामान चोरी हुआ था मगर बदनामी की बजह से उन्होंने पुलिस को सूचना नही दी थी, जिसपर पुलिस और प्रशासन ने गांव में सीसीटीवी कैमरे लगवाने की दबाब बनाया था, इसलिये उन्होंने हाल ही में सीसीटीवी कैमरे लगवाये हैं जिसमें उनके ही परिवार में हुई चोरी की वारदात कैद हो गई है। यह चोरी की वारदात उनके भतीजे हरियाणा पुलिस के एएसआई धर्मेंद्र सिंह जोकि गुडगांव में तैनात हैं और एएसआई प्रमोद जोकि मधुवन में ट्रेनिंग कर रहे हैं दोंनो भाईयों के घर में घटित हुई है। जिससे लगता है कि जब पुलिसकर्मियों के घर ही सुरक्षित नहीं हैं तो आम  जनता के मकानों का क्या होगा। इस वारदात के बाद पूरे गांव में भय का माहौल बना हुआ है ग्रामीणों की रातों की नींद उड गई है। पूरी रात गांववासी इस डर से रात गुजारते हैं कि कहीं चोर न  आ जायें, ऐसा कई सालों के बाद गांव में देखने को मिल रहा है। 

वहीं गांववासी राजाराम, और ज्ञानचंद शर्मा बुजुर्गों की माने तो उनकी पूरी जिंदगी में इतना डर गांव के पहली बार ही पैदा हुआ है, लोग अपने ही मकानों में डर डर के रातें गुजार रहे हैं, ग्रामीणों को रात में नींद तक नहीं आती है उनकी पूरी रात गांव की गलियों में पहरा देकर गुजर रही है, पुलिस प्रशासन से उनकी मांग है चोरों को जल्द गिरफ्तार कर उन्हें भयमुक्त किया जाये।मामले की जांच कर रहे खेडीपुल चौकी प्रभारी बसंत कुमार की माने तो उन्हें सूचना मिली थी पुलिसकर्मियों के मकान में चोरी हुई है जिसपर उन्होंने मौके पर पहुंच कर पूरे मामले की जांच की और सीसीटीवी देखने के बाद मामला दर्ज कर चोरों की तलाश शुरू कर दी है।


loading...
SHARE THIS

0 comments: