Friday, September 2, 2016

मुख्यमंत्री द्वारा घुमंतू समाज को दिये गये तोहफे से खुश हैं फरीदाबाद के गडिया लुहार



फरीदाबाद 2 सितंबर,2016(abtaknews.com) हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा बाजीगर बंजारा गडिया लुहार समाज के लोगों को दिये गये एक नायाब तोहफे से फरीदाबाद में रहने वाले पूरे घुमंतू वर्ग के समाज में खुशी की लहर दौड गई है, समाज के लोग मुख्यमंत्री का कोटि कोटि धन्यवाद कर रहे हैं क्योंकि आजादी के बाद पहली बार किसी मुख्यमंत्री ने उनके समाज के हित में कुछ सोचा है। उन्हें खुशी है कि अब उनके बच्चे भी पक्के मकानों में रहेंगे स्कूल जायेंगे और देश के हित में कुछ करेंगे। 

देश की आजादी के बाद कितने नेता आये और चले गये मगर चुनिंदा समाज को छोडकर कभी किसी नेता ने और किसी समाज को कुछ नहीं दिया, हरियाणा के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री ने उस समाज के लिये पक्के मकान देने की बात कही है और कहा है कि जब घुमंतू समाज को पक्के मकान नहीं मिल जाते उनसे जमीन खाली नहीं करवाई जायेगी, जो कि गांव-गांव , शहर - शहर भटकते हुए अपना जीवन यापन करते हैं, कभी इस गांव में डेरा तो कभी उस शहर में डेरा डालकर रोजना कमाते हुए बच्चों का भेट भरते हैं। अब ऐसे समाज यानि कि घुमंतू समाज के लोगों को कच्चे मकानों में नहीं रहना पडेगा, अब उनके पास भी पक्के मकान होंगे जिसमें उनके बच्चे रहेंगे स्कूल जायेंगे। 

इस बारे में फरीदाबाद में रहने वाले गडिया लुहार समाज के लोगों से बात की गई तो उन्होंने कहा कि आज उन्हें बहुत खुशी है कि आजादी के बाद किसी नेता ने तो उनके समाज को याद किया। आपबीती बाताते हुए लोगों ने कहा कि आज से करीब 5 बर्ष पहले उनके पूर्वज चत्तौडगढ के राजा महाराण प्रताप के साथ लडाई के दौरान बाहर निकले थे उसके बाद आज तक वापिस नहीं गये, बस गांव-गांव जा जाकर लोहे के औजार बनाने का काम करते रहे और बच्चों को पालते रहे। कोई कोई दिन तो ऐसा भी आता है जिस दिन काम नहीं होता तो बच्चों को भूखा ही सुलाना पडता है, कभी बच्चों ने पक्की छत नहीं देखी और न ही स्कूल, सर्दी गर्मी और बरसात के मौसमों भी वो अपनी झोंपडियों में भी रहते हैं। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: