Thursday, September 22, 2016

तू मेरी नहीं तो किसी की नहीं, पति ने पत्नी पर डाल दिया तेजाब


फरीदाबाद 22 सितंबर (abtaknews.com) सिरफिरे पति ने ही फेंका पत्नी पर तेज़ाब, मामला दिल्ली से सटे हुए फरीदाबाद सैक्टर 11 का है जहां पिछले डेढ़ साल से पति से अलग रह रही पत्नी के उपर पति ने उस वक्त तेजाब की भरी हुई बोतल उडेल दी जब पत्नी सुबह 8 बजे ड्यूृटी पर जा रही थी, दोनों ने दो साल पहले मंदिर में शादी की थी, पत्नी पर बच्चे न होने के कारण पति ने उसे छोड दिया था, तभी से पीडिता अपनी मां के साथ रह कर कोठियोंं में काम करके अपना जीवन यापन कर रही थी, अब पिछले चार महीने से पीडिता का पति उसका पीछा कर फिर से साथ में रहने के लिये परेशान कर रहा था जिसपर पत्नी ने साफ साफ मना कर दिया था, गुस्साये सिरफिरे पति ने अपनी ही पत्नी पर ये कहते हुए तेजाब डाल दिया कि तू अगर मेरी नहीं हो सकती तो मैं तुझे किसे के लायक नहीं छोडूंगा। गंभीर हालत में तेजाब पीडिता को सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है जहां पुलिस ने पीडित के बयान पर पति के खिलाफ मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।
 तू अगर मेरे साथ नहीं रह सकती तो मैं तुझे किसे के साथ रहने लायक नहीं छोडूंगा, बस इतना कहते हुए एक सिरफिरे पति ने अपनी ही पत्नी पर तेजाब से भरी हुई बोतल डाल दी,, दरअसल मामला फरीदाबाद के सैक्टर 11 का है जहां आज सुबह करीब 8 बजे ड्यूटी पर जा रही लगभग 36 बर्षीय महिला रितु पर उसी के  पति ने तेजाब डाल दिया, तेजाब से पीडित महिला के चिल्लाने के बाद आसपास के लोगों ने महिला के उपर पानी डाला और आनन फानन में उसे ईलाज के लिये सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया जहां अब पीडिता को खतरे से बाहर बताय जा  रहा है।
इस पूरी घटना के बारे में पीडिता रितु ने बताया कि 2 साल पहले उसने गांव मुजेसर के रहने वाले नीरज से मंदिर में शादी की थी, शादी के 6 माह तक सब कुछ ठीक चल रहा था, उसे कुछ परेशानी होने के कारण बच्चे नहीं हो रहे थे बस इसी कारण से उसके ससुराल वालों ने पति से कह कर उसे घर बाहर निकाल दिया, वो पिछले डेढ साल से अपनी मां के साथ सैक्टर 11 में रह रही है, और आसपास की कोठियों में बाई का काम कर अपना जीवन यापन कर रही है, पिछले करीब 4 माह से उसके पति ने उसका पीछा करना शुरू कर दिया और फिर से साथ में रहने का दबाब बनाने लगा, जिसपर पीडिता रितु ने साथ में रहने के लिये साफ साफ मना कर दिया, बस इसी से गुस्सा होकर उसने आज सुबह उसके उपर तेजाब से भरी हुई पूरी बोतल डाल दी, पीडिता ने जैसे तैसे अपना मुंह तो बचा लिया मगर शरीर को न बचा पाई और तेजाब महिला की पीठ और छाती पर फैल गया। पीडिता की मांग है आरोपी पति और उसके परिजनों ने उसकी जिंदगी बर्बाद कर दी है कानून उन्हें कडी से कडी सजा दे।
वहीं पीडिता रितु की मां का कहना है कि आरोपी नीरज ने उसकी बेटी के साथ मंदिर में शादी करने के बाद उसके दो बार छोड दिया है अब जब उसकी बेटी अपना काम काज कर के अपना पेट पाल रही है तो फिर से उसे साथ में रहने के लिये कह रहा है मना करने पर आरोपी नीरज ले उसकी बेटी पर तेजाब फैंक दिया है, नीरज आवारा किस्म का व्यक्ति है कोई भी काम काज नहीं करता है उसका बस एक ही पेशा है कि लडकियों को फसाना और उनसे शादी कर उन्हें धोखा देना, इसलिये वा कानून से न्याय की मांग कर रहे हैं।
पूरे मामले की जांच कर रहे जांच अधिकारी दर्शन लाल की माने तो जैसे उन्हें किसी महिला के उपर तेजाब फैंकने की सूचना मिली तो वो सिविल अस्पताल पहुंचे और पीडिता के बयान दर्ज किये, जिसपर आरोपी नीरज के खिलाफ मामला दर्ज कर एक टीम आरोपी को गिरफ्तार करने के लिये भेज दी है और दूसरी टीम पूरे मामले की जांच में जुट गई है।


loading...
SHARE THIS

0 comments: