Sunday, September 4, 2016

भाजपा शासनकाल में लोग नारकीय जीवन जीने को हुए मजबूर :- ललित नागर


फरीदाबाद(abtaknews.com ) तिगांव विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेसी विधायक ललित नागर ने आज क्षेत्र के श्रमिक विहार सेक्टर-30 सहित कई कालोनियों का तूफानी दौरा कर लोगों की समस्याएं सुनीं। इस दौरान श्री नागर स्थानीय लोगों के साथ पूरे क्षेत्र में पैदल घूमे और क्षेत्र की बदहाल स्थिति का स्वयं जायजा लिया। स्थानीय लोगों ने विधायक ललित नागर को अपनी समस्याएं बताते हुए कहा कि क्षेत्र की अधिकतर गलियों में नालियां नहीं है, जिसके चलते गंदा पानी गलियों में जमा रहता है, जिसकी निकासी की उचित व्यवस्था नहीं है वहीं क्षेत्र में जगह-जगह लगे गंदगी के ढेरों से उठने वाली दुर्गंध ने लोगों का जीना दुश्वार कर दिया है। पिछले दो माह के दौरान पांच लोगों की मौत गंदगी की वजह से होने वाली बीमारियों के चलते हुई है। इसके अलावा क्षेत्र में बिजली के तारें व खम्भे जर्जर हालत में है, जिसके चलते बिजली सप्लाई बाधित रहती है और क्षेत्र में पीने के पानी की भी काफी कमी है। पानी सप्लाई करने वाला ट्यूबवैल काफी समय से खराब है, जिसके चलते लोगों को पीने के पानी निजी टैंकर वालों से मोल खरीदना पड़ता है। लोगों की समस्याएं सुनने के बाद विधायक ललित नागर ने कहा कि भाजपा सरकार ने फरीदाबाद को कागजों में तो स्मार्ट घोषित कर दिया, जबकि वास्तव में यह शहर दिन प्रतिदिन स्लम का रूप लेता जा रहा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली से सटे बाईपास, पल्ला, तिलपत जैसे क्षेत्रों में बेतहाशा गंदगी लोगों के लिए अभिशाप बन गई है और अगर यही हाल रहा तो इस स्मार्ट सिटी से लोग गंदगी के चलते पलायन करने को भी मजबूर होंगे। श्री नागर ने स्थानीय केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि स्मार्ट सिटी का ढिढौरा पीटने वाले मंत्री जी को दिल्ली से सटे इन क्षेत्रों की गंदगी क्यों नजर नहीं आती। क्या मंत्री महोदय विपक्षी क्षेत्र होने का बदला लोगों से ले रहे है, क्या यहां के लोगों ने मंत्री जी को वोट नहीं दिए। ललित नागर ने कहा कि बेशक वह आज विपक्ष में है परंतु पिछले दिनों विधानसभा के मानसून सत्र के दौरान सदन में क्षेत्र की समस्याओं को प्रमुखता से उठाकर सरकार को घेरने का काम किया था और अगर जरूरत पड़ी तो वह क्षेत्र की जनता की समस्याओं को लेकर धरने प्रदर्शन करने से भी गुरेज नहीं करेंगे। उन्होंने लोगों को आश्वासन दिया कि क्षेत्र में व्याप्त समस्याओं को निराकरण के लिए वह जल्द ही प्रशासनिक अधिकारियों से बातचीत करेंगे और अगर जरूरत पड़ी तो स्वयं जिला उपायुक्त के समक्ष जाकर उन्हें वास्तुस्थिति से अवगत करवाएंगे। इस मौके पर अनिल चेची, सर्वदेव यादव, मुन्ना लाल, मौहरपाल, सुरेश वर्मा, धर्मवीर राठौर, मुखराम, रेवती पंडित, राजू, कंचन, बेबी बहन, रेनू, लीजा, पूजा, कमला देवी, चेतमान बहादुर, उग्रसेन, बनारसी लाल, सागर, सूरजभान, टूनटुन झा, देवेन्द्र डाक्टर, पन्ना लाल, छतर सिंह, बिजेंद्र बैसोया, रमाकांत, अमित चौहान, मनोज नागर, सैंडी बैसला, बंटी चेची सहित अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे।





loading...
SHARE THIS

0 comments: