Thursday, September 1, 2016

जबतक मकान ना मिलें तब तक बाजीगर बंजारा समाज से जमीन खली ना कराई जाये ;- मनोहर लाल



चण्डीगढ़, सितंबर 01,2016(abtaknews.com )हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बाजीगर बंजारा समाज के लोगों को एक नायाब तोहफा देते हुए कहा कि जब तक बाजीगर बंजारा समाज के लोगों को राज्य सरकार की तरफ से रिहायशी जमीन उपलब्ध नहीं करवाई जाती, तब तक समाज के लोगों से रिहायशी जमीन को खाली नहीं करवाया जाएगा। इतना ही नहीं बाजीगर बंजारा समाज के 400 गांवों में अगर समाज के लोगों की आबादी 45 प्रतिशत हैं तो सरकार की तरफ से गांवों की गलियां 1 नवम्बर, 2016 से पहले पक्की करवाई जाएगी। इस समाज के लोगों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत अनाज व अन्य सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए 
1 नवम्बर से पहले खाद्य एवं पूर्ति विभाग की तरफ से ब्लाक स्तर पर विशेष कैम्प लगाकर राशन कार्ड बनवाएं जाएंगे।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ये सभी घोषणाएं आज नई अनाज मंडी कुरुक्षेत्र में परम पूज्य बाबा लक्खी शाह बंजारा के 436वें जन्म दिवस एवं 65वें विमुक्ति दिवस पर गुहला चीका के विधायक कुलवंत बाजीगर द्वारा आयोजित बाजीगर बंजारा महासम्मेलन में की हैं। इस दौरान सांसद राजकुमार सैनी ने एमपी लैड कोष से 21 लाख रुपए देने की घोषणा भी की।
मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज के बच्चों को शिक्षित बनाने के लिए प्राईमरी, मिडिल और सीनियर सैंकेडरी स्कूलों को खोला जाएगा और प्रदेश में 5 छात्रावास बनाए जाएंगे। समारोह के संयोजक एवं विधायक कुलवंत बाजीगर समाज की तरफ से रखी मांग को पूरा करते हुए कुरुक्षेत्र में एक छात्रावास और बाजीगर समाज की धर्मशाला का निर्माण करवाया जाएगा। इसके लिए थानेसर विधायक सुभाष सुधा जमीन उपलब्ध करवाने में मदद करेंगे। इतना ही नहीं समाज की मांग के आधार पर 400 गांवों में समाज के लोगों की 45 प्रतिशत आबादी होने पर सरकार की तरफ से गलियों को पक्का किया जाएगा। अगले दो माह में समाज की जो बहने रसोई घर में कैरोसिन और लकड़ी का प्रयोग कर रही हैं, उन घरों में सरकार गैस चुल्हा और कनैक् शन उपलब्ध करवाएगी। उन्होंने कहा कि बाबा लक्खी शाह की याद में कैथल और फतेहाबाद में नगर पालिका द्वारा चिन्हित किए दो चौराहों का नाम बाबा लक्खी शाह रखा जाएगा। इतना ही नहीं समाज के लोगों की मुख्य मंाग अनुसूचित जाति में शामिल करने की सिफारिश नेशनल कमीशन फार एससी कास्ट को की जाएगी और पिछड़ा वर्ग आयोग की तरफ से सर्वे करवाकर अधिक से अधिक सुविधाएं दी जाएगी। 
    मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने लोगों के जोश को देखते हुए कहा कि बाजीगर बंजारा समाज सही मामलों में समाज की रीढ़ हैं। इस समाज ने बेशक बहुत सी दु:ख तकलीफों को झेला हैं, लेकिन इस समाज का इतिहास स्वर्ण अक्षरों में लिखा हुआ हैं। इस समाज के लोगों ने मुगलों के पैर उखाडऩे के लिए अपनी कुर्बानियंा दी और 11 नवम्बर 1675 के दिन इतिहास को कभी भूलाया नहीं जा सकेगा। इस दिन चांदनी चौंक पर सिखों के 9वें गुरु तेगबहादुर के सिर को कल्म कर दिया गया। इस दौरान केवल बाबा लक्खी शाह ही एक ऐसे महान व्यक्ति थे जिन्होंने गुरु तेगबहादुर के शरीर को अपने घर ले जाकर मकान सहित आग लगाकर अंतिम संस्कार किया। इस इतिहास की कहानियों से समाज के सभी वर्गो को प्रेरणा मिलती हैं। आज बाबा लक्खी शाह जैसे महान लोगों के इतिहास को याद करके मन में श्रृद्धा के भाव उमड़ आता हैं।
    उन्होंने कहा कि आज भी समाज में बहुत से लोग उपेक्षित हैं। सरकार समाज के इन लोगों को एकत्रित कर भलाई का काम कर रही हैं। पॉल गडरिया, घुमंतू समाज के लिए भी अलग-अलग सम्मेलनों का आयोजन किया जा चुका हैं। राज्य सरकार ने अपने घोषणा पत्र में किए वायदे के अनुसार समाज के अंतिम व्यक्ति का विकास करने का निर्णय लिया हैं और सरकार इस निर्णय को अमलीजामा पहनाने का काम कर रही हैं। उन्होंने कहा कि बाजीगर बंजारा समाज के साथ विमुक्त टपरीवास जातियों की भलाई के लिए जो स्कीमें सरकार के समक्ष रखी जाएंगी उन योजनाओं को सरकार लागू करने का काम करेगी।
    बाजीगर बंजारा महासम्मेलन के संयोजक एवं गुहला चीका के विधायक कुलवंत बाजीगर ने सम्मेलन को यादगार और ऐतिहासिक बनाने पर प्रदेश के कोने-कोने से आए समाज के लोगों का आभार और कठिन परिस्थितियों में सम्मेलन में पहुंचने पर मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि पिछले 40-50 सालों में इस समाज के लोगों को किसी सरकार ने याद किया और न ही किसी मुख्यमंत्री ने समय दिया। आज पहली बार समाज के लोग एकत्रित हुए। उन्होंने कहा कि बाबा लक्खी शाह की जयंती को भविष्य में भी मनाया जाएगा। यह समाज आज भी पिछड़ा हुआ हैं, इसलिए इस समाज की दिक्कतों को दूर करना एकमात्र उदेश्य हैं। उन्होंने समाज की तरफ से एक मांगपत्र मुख्यमंत्री को सौंपा।
    हरियाणा के सामाजिक एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण बेदी ने बाजीगर बंजारा समाज के लोगों को बाबा लक्खी शाह की 436वीं  जंयती पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार घूमंतु टपरीवास जातियों को समाज की मूलधारा में शामिल करने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। इस गरीब समाज की शिक्षा, सामाजिक व्यवस्था, रोजगार की व्यवस्था और सामाजिक सम्मान की व्यवस्था को बनाने के लिए हरियाणा सरकार ने जिम्मेवारी ली है। इसके लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री ने बोर्ड बनाया है। इस बोर्ड को अतिंम रूप देने व समाज की भलाई के लिए और अधिक बेहतर हो इसके लिए भाजपा के उपाध्यक्ष राजीव जैन को विमुक्त एवं घूमेंतु जातियों का सलाहकार बनाया गया है। उन्होंने आश्वासन दिलाया कि उनकी हर जरूरतों को गुहला के विधायक कुलंवत बाजीगर व स्वंय मुख्यमंत्री से मिलकर पूरा करवाएगें। 
    कुरूक्षेत्र के सांसद राजकुमार सैनी ने सभा में उपस्थित जनसमूह को बाबा लक्खी शाह की 436वीं जयंती पर बधाई देते हुए कहा कि बाजीगर बंजारा समाज वर्षो से गुलामी का जीवन जी रहा है। आज 70 साल आजादी के बाद भी समाज में कोई उन्नति का रास्ता नहीं खुला है। इस समाज को कुछ लोगों ने अपने स्वार्थ के लिए केवल प्रयोग किया है। समाज को केवल उन लोगों के आगे नतमस्तक होने पर मजबूर रहना पडता था परंतु आज मौका है कि प्रदेश व देश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी है। इस सरकार का उदेश्य देश व प्रदेश के अंतिम व्यक्ति को विकास में जोडना है। उन्होंने जोश भरे लिहाज से उपस्थित जन समूह अह्वान किया कि गुलामी का दौर खत्म हुआ अब आजादी का दौर है। अपने हक के लिए हर व्यक्ति को संघर्ष करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि जुल्म को सहने वाला भी उतना ही अपराधी होता है जितना कि जुल्म करने वाला होता है। उन्होंने सभी लोगों से निवेदन किया कि वे प्रण ले कि कभी किसी का जुल्म सहन नहीं करेंगे और अपनी हको की लडाई खुद लडेंगे। उन्होंने बाजीगर बंजारा समाज को अपने ऐच्छिक कोष से 21 लाख रूपये अनुदान के रूप में देने की घोषणा की और मुख्यमंत्री से अनुरोध किया कि वे उनकी सभी जायज मांगो को स्वीकार करे।
    भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं हरियाणा विमुक्त जाति के सलाहकार राजीव जैन ने समाज के लोगों को बाबा लक्खी शाह की जयंती पर बधाई देते हुए कहा कि हिन्दू धर्म की रक्षा के लिए बाबा लक्खी शाह ने अपना सब कुछ न्यौछावर कर दिया। आज समाज के लोगों को बाबा लक्खी शाह के जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिए। उन्होंने बाबा लक्खी शाह के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि राज्य सरकार समाज के लोगों के लिए बहुत कुछ करने जा रही हैं। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने एक विशेष कमेटी का गठन किया हैं और यह कमेटी निश्चित रुप से समाज के लोगों को तोहफा देगी। इतना ही नहीं सरकार समाज के अंतिम पंक्ति में बैठे लोगों को भी तमाम सुविधाएं उपलब्ध करवा रही हैं। इस कार्यक्रम में 
    थानेसर के विधायक सुभाष सुधा ने कुरूक्षेत्र में बाबा लक्खी शाह की 436वीं जंयती मनाने पर प्रदेश भर से आये बाबा लक्खी शाह के अनुयायियों को बधाई दी और कहा कि प्रदेश में बाजीगर बंजारा समाज ने कडी मेहनत करके इस जंयती का आयोजन किया है। बाजीगर बंजारा समाज काफी संर्घषशील समाज है। इस समाज ने भारतीय जनता पार्टी को हर चुनाव में सहयोग देकर मजबूती दी है। उन्होंने बाजीगर बंजारा समाज के लोगों को खुले ह्दय से हर संभव सहयोग करने का आश्वासन दिया और कहा कि वह हर कीमत पर कुरूक्षेत्र में बाजीगर बंजारा समाज की धर्मशाला बनवाएगें । इस धर्मशाला के निर्माण में वह धन की कमी को आडे नहीं आने देगें। वह समाज के लोगों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर बाजीगर बंजारा समाज की हर जरूरी मांग को पूरा करवाएगें। इस महासम्मेलन को पूर्व मंत्री रामस्वरुप रामा, बंजारा समाज के प्रदेशाध्यक्ष जसमेर बंजारा, राष्ट्रीय कोर कमेटी के अध्यक्ष जगीर सिंह, डा. बलवान ने भी सम्बोधित किया। इस कार्यक्रम में समाज की तरफ से विधायक कुलवंत बाजीगर व संयोजन कमेटी के अन्य सदस्यों ने मेहमानों को शाल व स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। इस कार्यक्रम में बाबा लक्खी शाह के जीवन पर आधारित एक पुस्तक का विमोचन भी किया गया। 
इससे पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल, राज्यमंत्री कृष्ण कुमार बेदी, सांसद राजकुमार सैनी, महासम्मेलन के संयोजक एवं विधायक कुलवंत बाजीगर, थानेसर विधायक सुभाष सुधा, लाडवा विधायक डा. पवन सैनी, भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं हरियाणा विमुक्त जाति के सलाहकार राजीव जैन, विमुक्त घुमंतू समिति के सदस्य डा. बलवान सिंह, पूर्व मंत्री रामस्वरुप रामा, संयोजक राजेश, बंजारा समाज के अध्यक्ष जसमेर सिंह आदि ने बाबा लक्की शाह की तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर श्रृद्धाजंलि दी। इस मौके पर लाडवा के विधायक डा. पवन सैनी, ओएसडी अमरेन्द्र सिंह सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: