Sunday, September 11, 2016

राष्ट्रीय राजमार्ग पर इंटेलीजेंट ट्रांसपोर्ट सिस्टम शुरू होगा ;- नितिन गडकरी


चंडीगढ़, 11 सितंबर(abtaknews.com ) केन्द्रीय सडक़ परिवहन, राजमार्ग तथा जहाजरानी मंत्री श्री नितिन गडकरी ने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर इंटेलीजेंट ट्रांसपोर्ट सिस्टम शुरू किया जाएगा, जिसके तहत कैमरे लगाए जाएंगे। उन्होंने सभी वाहन चालकों का आह्वान किया कि चाहे नेता हो, अधिकारी हो, कोई भी हो, सभी यातायात नियमों का पालन करें अन्यथा चालान घर पहुंच जाएगा। साथ ही, उन्होंने कहा कि अब वाहन चालक को हमेशा अपने साथ लाइसेंस और दस्तावेज रखने की आवश्यकता नहीं है। हाल ही में डिजिलॉकर स्थापित किया गया है, जिसमेें आप अपने ड्राइविंग लाइसेंस व गाड़ी के दस्तावेज डिजीटली रख सकते हैं और जरूरत पडऩे पर मोबाइल पर ये दस्तावेज दिखाए जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि इस सुविधा से लगभग 18 करोड़ लोगों को लाभ होगा तथा अब नकली लाइसेंस नहीं चलेंगे। 

श्री गडकरी ने आज गुडग़ांव में लगभग 1005 करोड़ रुपये की लागत से राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर आठ के तीन मुख्य चौैराहों- इफको चौक, सिग्नेचर टावर चौक तथा राजीव चौक के सुधार कार्यों की आधारशिला रखने के बाद उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि इन चौराहों पर चार अंडरपास व चार ही फलाईओवर बनेंगे। उन्होंने कहा कि इस कार्य को पूरा करने के लिए उन्हें 30 महीने का समय बताया गया था, लेकिन उन्होंने इस कार्य को 15 महीने में पूरा करने के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही, उन्होंने राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर आठ पर कैमरे लगवाने की भी घोषणा की और कहा कि अभी हाल ही में इस हाइवे पर यात्रियों व वाहन चालकों की सुविधा के लिए रेडियो पर यातायात अपडेट भी देना शुरू किया जा चुका है। 

श्री गडकरी ने कहा कि दिल्ली और जयपुर के बीच नया हाइवे बनाया जाएगा जो एक्सेस कंट्रोल हाइवे होगा, जिसके बनने बाद दिल्ली-जयपुर की 270 किलोमीटर की दूरी दो घंटे में तय होगी। इस एक्सेस कंट्रोल हाइवे पर लगभग 16000 करोड़ रुपए की लागत आएगी। उन्होंने कहा कि एक्सेस कंट्रोल हाइवे का कार्य जनवरी-2017 से शुरू किया जाएगा, जिसके लिये जल्द ही भूमि अधिग्रहण कार्य शुरू किया जाएगा। उन्होंने हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल से आग्रह किया कि वे इस हाइवे के दोनों तरफ की भूमि को विकसित करके दें ताकि हाइवे की लागत कम की जा सके । उन्होंने कहा कि गुडग़ांववासी पिछले कई सालों से यातायात जाम की समस्या से परेशान थे। दिल्ली-जयपुर हाइवे बनने में कई कठिनाईयां थी और इसके सम्बन्ध में न्यायालयों में भी मामले लंबित थे। भाजपा सरकार ने आते ही उन तमाम कठिनाइयों को दूर किया और निर्माण कार्य पुन: शुरू करवाया।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर आवागमन सुगम बनाने के लिए आईएमटी मानेसर चौक पर फलाईओवर के कार्य को भी जल्द पूरा करवाया जाएगा। श्री गडकरी ने कहा कि द्वारका एक्सप्रैस-वे पर भी निर्माण शुरू हो गया और यह भी जल्द पूरा कर लिया जाएगा। श्री गडकरी ने कहा कि एम्बियंस माल वाले चौराहे का भी सुधार किया जाएगा। इसके अलावा, मानेसर-गुडग़ांव के लिए बाईपास पर भी कार्य जल्द ही शुरू किया जाएगा। साथ ही श्री गडकरी ने आज दिल्ली के धौलाकुआं से मानेसर के बीच मैटरिनो सिस्टम की पायलट परियोजना शुरू करने की बात दोहराते हुए कहा कि इसके लिए क्लीयरेंस मिल चुकी है और जल्द ही इस पर कार्य शुरू किया जाएगा। 
श्री गडकरी ने कहा कि श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में हरियाणा तेजी से आगे बढ़ रहा है और श्री नरेन्द्र मोदी की सरकार पूरी ताकत के साथ उनके पीछे खड़ी है। श्री गडकरी ने कहा कि उन्होंने दो सालों में 50 हजार करोड़ रुपए के विकास कार्य हरियाणा में शुरू करवाने का वचन दिया था जिसे वे पूरा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली के चारों तरफ इस्टरली और वेस्टरली बाईपास का कार्य चल रहा है। यह मार्ग बनने से दिल्ली का 50 प्रतिशत ट्रैफिक तथा प्रदूषण कम होगा। उन्होंने कहा कि यह कार्य 400 दिनों के रिकार्ड समय में पूरा किया जाएगा। वे निरंतर इस परियोजना की निगरानी कर रहे हैं। 

इससे पूर्व, हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने बड़ी परियोजना देने के लिए श्री गडकरी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि अंडरपास व फलाईओवर बनने से वाहन चालकों को बड़ी राहत मिलेगी। उन्होंने दिल्ली और गुडग़ांव के बीच कनैक्टिविटी बढ़ाने की परियोजनाओं का उल्लेख करते हुए कहा कि गुडग़ांव में सडक़ों की मरम्मत का कार्य युद्ध स्तर पर किया जाएगा और हुडा व नगर निगम के क्षेत्रों में भी सडक़ों की मरम्मत व निर्माण में लोक निर्माण विभाग अपना सहयोग देगा। उन्होंने कहा कि एसपीआर तथा ग्रेटर एसपीआर सडक़ की सैद्धांतिक मंजूरी मिल चुकी है और यह सडक़ फरीदाबाद और दिल्ली के टै्रफिक को मानेसर से जोड़ेगी। उन्होंने सरहोल के पुराने टोल प्लाजा के स्थान पर यू-टर्न बनवाने की मांग की और कहा कि वर्तमान में वाहन चालकों को एम्बियंस माल की तरफ आने के लिए दिल्ली के रजोकरी होकर आना पड़ता है।

गुडग़ांव के सांसद एवं केन्द्रीय योजना, शहरी विकास, आवास और गरीबी उन्मूलन राज्यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने श्री गडकरी के स्वागत में कहा कि उन्होंने अपने सारे राजनीतिक जीवन में श्री गडकरी जैसे कम ही व्यक्ति देखे हैं, जो अपनी बात को पूरा करते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार बनने के बाद राष्ट्रीय राजमार्गों पर बहुत काम हुआ है और अब गुडग़ांव से शाहजहांपुर बार्डर तक काम होते हुए दिखाई देते हैं। साथ ही उन्होंने गुजरात की तर्ज पर खेडक़ीदौला टोल प्लाजा पर गुडग़ांववासियों के लिए टोल में छूट देने की बात भी कही। 

हरियाणा के लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह ने कहा कि जब-जब हरियाणा की सडक़ों से संबंधित कोई भी प्रस्ताव लेकर वे श्री गडकरी के पास गए, उन्हें मांग से ज्यादा ही मिला है। उन्होंने बताया कि दुनिया के सबसे छोटे तीन राष्ट्रीय राजमार्ग श्री गडकरी द्वारा गुडग़ांव में मंजूर किए गए हैं। इनमें द्वारका एक्सप्रैस-वे, एम्बियंस माल से एमजी रोड तथा मानेसर से एमजी रोड शामिल हैं। राव नरबीर सिंह ने खेडक़ीदौला टोल प्लाजा हटवाने की मांग भी श्री गडकरी के समक्ष रखी। उन्होंने कहा कि अलवर रोड पर वाटिका चौक से बादशाहपुर तक ऐलीवेटेड सडक़ की डीपीआर बनाई गई है, परंतु भविष्य के ट्रैफिक को ध्यान में रखते हुए इसे सुभाष चौक से शुरू करना बेहतर रहेगा, जिसके लिए इसकी डीपीआर पुन: तैयार की जाए। 

इस अवसर पर हरियाणा के जनस्वास्थ्य मंत्री डॉ. बनवारी लाल, दक्षिणी दिल्ली के सांसद रमेश बिधूड़ी, गुडग़ांव के विधायक उमेश अग्रवाल, सोहना के विधायक तेजपाल तंवर, पटौदी की विधायक बिमला चौधरी, नारनौल के विधायक ओम प्रकाश, हरियाणा आवास बोर्ड के चेयरमैन जवाहर यादव, हरियाणा डेरी विकास प्रसंघ के चेयरमैन जीएल शर्मा के अलावा जिला प्रशासन व एनएचएआई के अधिकारी तथा गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: